किसानों के समर्थन में कांग्रेस ने निकाली पदयात्रा, उड़ी कोरोना गाइडलाइन की धज्जियां

किसानों के समर्थन में शुक्रवार को प्रदेश के सभी जिलों में कांग्रेस की ओर से पदयात्रा निकाली गईं। जयपुर में यह पदयात्रा पीसीसी मुख्यालय से लेकर गलता गेट तक पदयात्रा निकाली गई, पदयात्रा में कांग्रेस कार्यकर्ताओं में उत्साह नजर आया, पदयात्रा में हाथी-ऊंट, ट्रेक्टर भी शामिल हुए लेकिन कोरोना गाइडलाइंस की धज्जियां उड़ाई गईं।

By: Ashish

Published: 20 Feb 2021, 06:46 PM IST

जयपुर

किसानों के समर्थन में शुक्रवार को प्रदेश के सभी जिलों में कांग्रेस की ओर से पदयात्रा निकाली गईं। जयपुर में यह पदयात्रा पीसीसी मुख्यालय से लेकर गलता गेट तक पदयात्रा निकाली गई, पदयात्रा में कांग्रेस कार्यकर्ताओं में उत्साह नजर आया, पदयात्रा में हाथी-ऊंट, ट्रेक्टर भी शामिल हुए लेकिन कोरोना गाइडलाइंस की धज्जियां उड़ाई गईं। जयपुर में निकाली जाने वाली पदयात्रा में मुख्यमंत्री अशोक गहलोत और पीसीसी चीफ गोविंद सिंह डोटासरा के शामिल होने का कारण था लेकिन ये शामिल नहीं हो सके। मंत्री-विधायकों ने ऊंट की सवारी कर और ट्रेक्टर चलाकर भी किसानों के साथ होने का संदेश दिया। कांग्रेस की ओर से तीन काले कृषि कानूनों और देश में पेट्रोल, डीजल और गैस के बढ़ते दामों के विरोध में एवं केन्द्र सरकार द्वारा देश की सीमाओं की सुरक्षा के साथ समझौता करने की जॉंच संयुक्त संसदीय समिति से करवाने की मॉंग को लेकर ये पदयात्राएं निकालीं।

इस रूट पर निकाली गई पदयात्रा
पदयात्रा प्रदेश कांग्रेस मुख्यालय से पदयात्रा प्रारम्भ होकर चांदपोल बाजार से छोटी चौपड़, त्रिपोलिया गेट, बड़ी चौपड़, रामगंज चौपड़, सूरजपोल अनाज मण्डी होते हुए गलता गेट पहुॅंची। पदयात्रा में राजस्थान प्रदेश कांग्रेस कमेटी के उपाध्यक्ष एवं जयपुर सम्भाग प्रभारी गोविन्द राम मेघवाल, परिवहन मंत्री प्रतापसिंह खाचरियावास, मुख्य सचेतक डॉ. महेश जोशी, उप मुख्य सचेतक महेन्द्र चौधरी, विधायक रफीक खान, अमीन कागजी, गंगा देवी, विधायक प्रत्याशी डॉ. अर्चना शर्मा, सीताराम अग्रवाल, महापौर मुनेश गुर्जर, पुखराज पाराशर, पीसीसी सचिव ललित तूनवाल, भूराराम सीरवी, जसवंत गुर्जर, आर. सी. चौधरी, विजय सारस्वत सहित प्रमुख कांग्रेसजन उपस्थित रहे।

शुरू में अलग, फिर एकजुट नजर आए

कांग्रेस की इस पदयात्रा में कई नेता एक साथ चलने की बजाय अपने-अपने समर्थकों के साथ अलग-अलग जत्थों में बंटे नजर आए। हालांकि गलता गेट पहुंचकर सभी ने एकजुटता दिखाई। कांग्रेस नेताओं ने कहा कि पार्टी किसानों के साथ आखिरी दम तक खड़ी रहेगी।

केन्द्र सरकार पर लगाए आरोप
इस अवसर पर कांग्रेस नेताओं ने कहा कि केन्द्र की भाजपा सरकार द्वारा किसानों की सहमति के बगैर और उनसे चर्चा किये बिना तीन कृषि कानून थोपकर किसानों की खेती एवं आजीविका पर प्रहार किया गया है। केन्द्र सरकार इन तीन कृषि कानूनों के माध्यम से देश में मण्डियां समाप्त कर किसानों को एमएसपी से वंचित करना चाहती है तथा देश के बड़े उद्योगपतियों को असीमित खाद्य सामग्री अपने गोदामों में भण्डारण करने की छूट प्रदान की जा रही है।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned