कृषि कानूनों के खिलाफ कांग्रेस का हल्ला बोल, 15 जनवरी को होगा राजभवन का घेराव

- कल सुबह 11 बजे सिविल लाइंस फाटक पर होगा कांग्रेस का धरना , प्रदेश प्रभारी अजय माकन और मुख्यमंत्री गहलोत भी होंगे शामिल, राज्य के कृषि बिलों को रोके जाने के विरोध में धरना

By: firoz shaifi

Published: 14 Jan 2021, 08:53 AM IST

जयपुर। केंद्र के कृषि कानूनों के विरोध और पिछले 50 दिन से आंदोलरत किसानों के समर्थन में प्रदेश कांग्रेस कल जयपुर में धरना प्रदर्शन करेगी। शुक्रवार को सुबह 11 बजे सिविल लाइंस फाटक पर होने वाले धरना प्रदर्शन में मुख्यमंत्री अशोक गहलोत, प्रदेश प्रभारी अजय माकन, पीसीसी चीफ गोविंद सिंह डोटासरा, मंत्रिमंडल के सदस्यों, विधायकों के साथ प्रदेश कार्यकारिणी के पदाधिकारी भी धरने में शामिल होंगे।

प्रदेश कार्यकारिणी की घोषणा होने के बाद प्रदेश कांग्रेस का ये पहला बड़ा कार्यक्रम है। प्रदेश कांग्रेस ने इस धरने को किसान अधिकार दिवस का नाम दिया है। धरने के दौरान कांग्रेस नेता केंद्र के कृषि कानूनों की खामियां गिनाएंगे। करीब दो घंटे तक चलने वाले धरने में कई वक्ता मोदी सरकार पर बरसते हुए नजर आएंगे।

राजभवन का होगा घेराव
वहीं राज्य सरकार की ओर से विधानसभा में ला गए तीन कृषि विधेयकों को राजभवन में रोके जाने और उन्हें राष्ट्रपति के पास नहीं भेजने के विरोध में प्रदेश कांग्रेस के नेता सिविल लाइंस फाटक पहुंचकर राजभवन का घेराव भी करेंगे। पूर्व में प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष गोविंद सिंह डोटासरा और मुख्यमंत्री अशोक गहलोत लगातार राजभवन पर मोदी सरकार के दबाव में काम करने का आरोप लगा चुके हैं। पीसीसी चीफ डोटासरा कह चुके हैं कि मोदी सरकार के दबाव में राज्यपाल हमारे कृषि अध्यादेशों को रोके हुए हैं।

firoz shaifi Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned