राजस्थान में प्रियंका गांधी की गिरफ्तारी के विरोध में कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने किया प्रदर्शन, दी गिरफ्तारी

neha soni | Publish: Jul, 20 2019 03:58:39 PM (IST) Jaipur, Jaipur, Rajasthan, India

देशभर में सड़कों पर उतर आए कांग्रेस कार्यकर्ता

जयपुर।

उत्तर प्रदेश के सोनभद्र में हुई हिंसा पीड़ित परिवारों से मिलने जा रही है कांग्रेस की राष्ट्रीय महासचिव प्रियंका गांधी की गिरफ्तारी के मामले ने अब तूल पकड़ लिया है। प्रियंका गांधी की गिरफ्तारी के विरोध में आज देशभर में कांग्रेस कार्यकर्ता सड़कों पर उतर आए हैं। और विरोध प्रदर्शन कर रहे हैं।

सोनभद्र में हुई हिंसा पीड़ित परिवारों से मिलने जा रही कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी की गिरफ्तारी के विरोध में देशव्यापी आह्वान का असर प्रदेश में भी देखने को मिला। विरोध प्रदर्शन के तहत शनिवार को जयपुर, डूंगरपुर, कोटा सहित कई जिलों में भी कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने जमकर प्रदर्शन किया। डूंगरपुर में कार्यकर्ताओं ने जिला कलक्ट्रेट के बाहर जमकर प्रदर्शन किया और केंद्र सरकार के खिलाफ नारेबाजी कर कलक्ट्रेट में घुसने का प्रयास किया। पुलिसकर्मियों ने दरवाजे बंद कर बल पूर्वक रोका। बाद में कांग्रेसजनों ने गिरफ्तारियां दी।


जयपुर के जेएलएन मार्ग स्थित गांधी सर्किल पर सुबह 11 बजे शुरू हुआ कांग्रेस का धरना 12 बजे तक चला। धरने में मुख्यमंत्री अशोक गहलोत, मंत्रिमंडल के सदस्यों के साथ ही विधानसभा में मुख्य सचेतक महेश जोशी, विधायक अमीन कागजी, रफीक खान, गंगा देवी सहित प्रदेश कांग्रेस के पदाधिकारी, जिला कांग्रेस के पदाधिकारी और बड़ी संख्या में कार्यकर्ता भी शामिल हुए।

इस दौरान कार्यकर्ताओं ने यूपी की योगी सरकार के खिलाफ जमकर नारेबाजी भी की। वहीं प्रदेश के सभी जिलों में कांग्रेस कार्यकर्ताओं की ओर से इस मामले को लेकर विरोध प्रदर्शन किया गया। इधर छात्र कांग्रेस से जुड़े संगठन एनएसयूआई की ओर से भी प्रियंका गांधी की गिरफ्तारी के विरोध में आज सुबह 10 बजे राजस्थान विश्वविद्यालय के मुख्य द्वार पर प्रदर्शन कर यूपी की योगी सरकार के खिलाफ जमकर नारेबाजी की गई।


राजस्थान के सीएम व डिप्टी सीएम ने ट्विटर कर जताया विरोध
राजस्थान के सीएम व डिप्टी सीएम ने भी ट्विटर पर कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी को सोनभद्र में पीड़ित परिवारों से मिलने से रोकने पर कड़ा विरोध जताया है। यूपी सरकार पर निशाना साधते हुए उन्होंने कहा कि प्रियंका को रोकना अन्यायपूर्ण है।


प्रियंका को रोकना अन्याय व अलोकतांत्रिका तरीका
उत्तर प्रदेश सरकार ने प्रियंका को सोनभद्र फायरिंग के शिकार पीडि़त परिवारों से मिलने से रोका है। यह बिल्कुल गलत और अन्यायपूर्ण व अलोकतांत्रिक तरीका है। विपक्षी नेताओं को किसी भी त्रासदी में पीडि़त परिवारों से मिलने और उनके साथ एकजुटता में खड़े होने का पूरा अधिकार है।
- अशोक गहलोत, मुख्यमंत्री राजस्थान।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned