कांस्टेबल ने पर्स लौटाकर दिया ईमानदारी का परिचय

पर्स में रखे थे रुपए, आधार और आईडी कार्ड

By: Lalit Tiwari

Published: 04 May 2021, 06:31 PM IST

पुलिस लाइन में तैनात एक कांस्टेबल ने एक व्यक्ति को रुपयों से भरा पर्स लौटाकर ईमानदारी का परिचय दिया। अतिरिक्त पुलिस उपायुक्त आलोक सिघंल ने बताया कि कमिश्नरेट की पुलिस लाइन में तैनात कांस्टेबल चन्द्रभान सुबह करीब 8 बजे रोडवेज बस से उतरकर अपनी ड्यूटी पर आ रहे थे। बस से उतरते समय उन्हें एक पर्स मिला। बस में बैठे यात्रियों को पर्स के बारे में पूछा तो किसी भी यात्री ने अपना पर्स नहीं होना बताया। कांस्टेबल चन्द्रभान को पर्स में रखी डायरी में अजय कुमार नामक व्यक्ति के मोबाइल नम्बर मिले। चन्द्रभान ने मोबाइल से सम्पर्क किया तो अजय कुमार ने बताया कि रोहिताश गुर्जर मेरा दोस्त है जिसके मोबाइल नम्बर इस प्रकार है। जिस पर सम्पर्क कर बस में मिले पर्स के बारे में बताकर तस्दीक की तो रोहिताश गुर्जर ने बताया कि मेरी वोटर आईडी, आधार कार्ड, आईसीआईसीआई बैंक का एटीएम, मेरी फोटो डायरी और करीब 2700 रुपए पर्स में रखे थे। गांव से जयपुर आते समय बस में पर्स जेब में गिर गया। इस पर उसे बताया गया कि वह कांस्टेबल चन्द्रभान बोल रहे है और उनका पर्स सुरक्षित है वह उसे पुलिस लाइन में आकर ले जाए। इस पर पन्ना की ढाणी रामगढ़ दौसा निवासी रोहिताश गुर्जर (21) ने पुलिस लाइन में उपस्थित होकर अपनी आईडी पेश की। इसके आधार पर रोहिताश गुर्जर को उसका पर्स मय वोटर आईडी, आधार कार्ड, आईसीआईसीआई बैंक का एटीएम फोटो, डायरी और करीब 2700 रुपए सुपुर्द कर रसीद प्राप्त की गई।

Lalit Tiwari Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned