जयपुर में बढ़ते संक्रमितों पर कोरोना क्या कह रहा है ,देखिए कार्टूनिस्ट लोकेन्द्र की नजर से

जयपुर में बढ़ते संक्रमितों पर कोरोना क्या कह रहा है ,देखिए कार्टूनिस्ट लोकेन्द्र की नजर से

By: lokendra singh

Published: 01 Apr 2020, 10:24 PM IST

निजामुद्दीन मरकज में शामिल तबलीगी जमात के 24 लोगों में कोरोना वायरस के संक्रमण की पुष्टि होने के बाद देश के सामने चुनौती और भी बड़ी हो गई है। अब उन लोगों का पता लगाया जा रहा है जो मरकज के कार्यक्रम में शामिल होकर अपने-अपने घरों को लौट रहे जमातियों के संपर्क में आए थे। रेलवे इस बेहद चुनौतीपूर्ण काम को अंजाम देने में जुट गया है।
रेलवे उन पांच ट्रेनों के यात्रियों का पता लगाने में जुट गई है जिनमें जमातियों ने दिल्ली से अपने-अपने गंतव्यों तक सफर किया था। इन ट्रेनों से सफर करने वाले यात्रियों की संख्या हजारों में है। ये सभी ट्रेनें 13 से 19 मार्च के बीच दिल्ली से रवाना हुईं थीं। इनमें आंध्र प्रदेश को जानेवाली दुरंतो एक्सप्रेस, चेन्नै तक जाने वाली ग्रैंड ट्रंक एक्सप्रेस, चेन्नै को ही जानेवाली तमिलनाडु एक्सप्रेस, नई दिल्ली-रांची राजधानी एक्सप्रेस और एपी संपर्क क्रांति एक्सप्रेस शामिल हैं।
हालांकि रेलवे के पास जमातियों के संपर्क में आए लोगों की वास्तविक आंकड़ा नहीं हैं, लेकिन सूत्रों का कहना है कि प्रत्येक ट्रेन में लगभग 1,000 से 1,200 यात्री और रेलवे कर्मचारी होते हैं। इन सभी को खतरा हो सकता है। राज्य के अधिकारियों ने कहा कि रेलवे जिला अधिकारियों को यात्रियों की लिस्ट प्रदान कर रहा है जिनको जमात में शामिल लोगों की सूची से मिलाया जा रहा है ताकि उनके संपर्क में आए लोगों का पता लगाया जा सके।

जयपुर के रामगंज में भी एक साथ 13 संक्रमित मिलने से प्रशासन के हाथ पैर फूल गए

lokendra singh Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned