Corona : आमजन की सावधानी से ही टूटेगा कोरोना का कूचक्र

Corona : जयपुर . Medical and Health Minister Dr. Raghu Sharma ने कहा कि आमजन की सावधानी से ही Corona के कुचक्र को बढऩे से रोका जा सकता है।

By: Anil Chauchan

Published: 07 Sep 2020, 07:11 PM IST

Corona : जयपुर . चिकित्सा एवं स्वास्थ्य मंत्री डॉ. रघु शर्मा ( Medical and Health Minister Dr. Raghu Sharma ) ने कहा कि सरकार कोरोना ( Corona ) की रोकथाम और इसके संक्रमण के प्रसार को रोकने के लिए हरसंभव प्रयास कर रही है, लेकिन आमजन की सावधानी से ही कोरोना के कुचक्र को बढऩे से रोका जा सकता है।


डॉ. शर्मा ने कहा कि कोरोना का अभी कोई दवा या टीका ईजाद नहीं हो पाया है और ना ही कोरोना अभी समाप्त हुआ है। दुनियाभर में संक्रमण के मामले में भारत अब 2 नंबर पर आ चुका है। देशभर में 90 हजार लोग एक दिन में संक्रमित हो रहे हैं। अब तक देश में करीब 41 लाख लोग संक्रमित हो चुके हैं। राज्य पर भी इसका असर पड़ रहा है। कुछ दिनों पहले तक प्रदेश में लगभग 1100 मरीज प्रतिदिन आ रहे थे, यह नंबर अब 15 सौ से ज्यादा तक पहुंच गया है।


चिकित्सा मंत्री ने कहा कि यह जानते हुए भी लोग प्रोटोकॉल का पालन नहीं कर लापरवाही बरत रहे हैं। संक्रमण के इस दौर में बिना मास्क घूमना, समूह में एकत्रित होना स्वयं और आमजन के लिए संक्रमण बढ़ाने वाला हो सकता है। कोरोना में केवल बचाव और सावधानी ही उपचार है।


चिकित्सा मंत्री ने कहा कि प्रदेश में कोरोना के बेहतर प्रबंधन के चलते इस दौरान होने वाली मृत्युदर में लगातार गिरावट आ रही है। वर्तमान में कोरोना से होने वाली मृत्युदर 1.25 फीसद है। देश के 10 बड़े राज्यों की औसत में राजस्थान में कोरोना की मृत्युदर खासी कम है। प्रदेश में ठीक होने का प्रतिशित भी 82 फीसद तक पहुंच गया है, पॉजिटिविटी का प्रतिशत भी कम है लेकिन फिर भी हमें और अधिक सावधान रहने की जरूरत है।

निजी अस्पतालों के लिए दरें की निर्धारित -
स्वास्थ्य मंत्री ने बताया कि पिछले दिनों स्वास्यि विभाग ने निजी अस्पतालों में कोविड का इलाज करा रहे लोगों के लिए दरें निर्धारित की गई हैं। सभी प्रोटोकॉल के साथ उन्हें चाय, नाश्ता, पीपीई किट से लेकर एंबूलेंस व अन्य सभी जांचों की दरों को निर्धारित कर दिया है। अब प्रदेश में कोई भी निजी अस्पताल मनमानी दरों पर पैसा वसूल नहीं सकता है। यही नहीं जो मरीज बिना लक्षण के हैं और निजी अस्पताल में निजी कमरों में रहना चाहते हैं। ऐसे में उनके लिए 3 तरह के कमरों की भी दरें सरकार ने निर्धारित कर निजी अस्पतालों को अधिकृत किया है।

Anil Chauchan Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned