Corona : राजस्थान में दो हजार डॉक्टरों की भर्ती का मामला अटका

Corona : जयपुर . राजस्थान में जुलाई के दूसरे सप्ताह में ली गई 2 हजार डॉक्टरों की भर्ती परीक्षा को Health Department ने रद्द कर दिया है। Corona के कारण Doctors की कमी को देखते हुए प्रदेश में यह Recruitment की जानी थी। अब Recruitment Process के लिए दोबारा विज्ञप्ति जारी होगी। डॉक्टरों को दोबारा परीक्षा देनी होगी, जिसमें करीब दो माह का समय लगेगा।

By: Anil Chauchan

Updated: 26 Aug 2020, 06:51 PM IST

जयपुर . राजस्थान में जुलाई के दूसरे सप्ताह में ली गई 2 हजार डॉक्टरों की भर्ती परीक्षा को स्वास्थ्य विभाग ( Health Department ) ने रद्द कर दिया है। कोरोना ( Corona ) के कारण डॉक्टरों ( Doctors ) की कमी को देखते हुए प्रदेश में यह भर्ती ( Recruitment ) की जानी थी। अब भर्ती ( Recruitment Process ) प्रक्रिया के लिए दोबारा विज्ञप्ति जारी होगी। डॉक्टरों को दोबारा परीक्षा देनी होगी, जिसमें करीब दो माह का समय लगेगा।


चिकित्सा एवं स्वास्थ्य मंत्री डॉ. रघु शर्मा ने इस बात को स्वीकारा है और कहा है कि राज्य में 2 हजार चिकित्सकों की भर्ती प्रक्रियाधीन थी, लेकिन परीक्षा में कुछ खामियों के चलते इसकी समीक्षा की गई। कमेटी ने 2 हजार चिकित्सकों की भर्ती दोबारा करना तय किया है। अब सभी पदों के लिए दोबारा विज्ञप्ति जारी कर परीक्षा ली जाएगी। मुख्यमंत्री ने कम से कम समय में इस भर्ती को पूरा करने के निर्देश दिए हैं। विभाग के अधिकारियों ने एक से डेढ़ महीने में यह प्रक्रिया पूरी करने के लिए आश्वस्त किया है।


प्रदेश में कोरोना के बढ़ते मरीजों को देखते हुए सरकार ने मई की शुरूआत में घोषणा की थी कि 5 दिनों में डॉक्टरों के 2 हजार पदों पर भर्ती की जाएगी। लेकिन चार माह बीतने को आए और अभी तक प्रदेश को कोरोना बीमारी में भी डॉक्टरों की कमी का सामना करना पड़ रहा है। उधर परीक्षा रद्द किए जाने से डॉक्टरों में भी रोष व्याप्त है।


डॉक्टर भर्ती में सरकार विफल -
उधर पूर्व चिकित्सा मंत्री एवं वर्तमान विधायक कालीचरण सराफ ने सरकार पर आरोप लगाया है कि कोरोना महामारी में भी सरकार डॉक्टरों की भर्ती करने में असफल साबित हुई है। डॉक्टर भर्ती परीक्षा के परिणाम का इंतजार कर रहे हैं और सरकार ने इसे रद्द कर दिया। प्रदेश में कोरोना के हालात गंभीर होते जा रहे हैं, खासकर ग्रामीण क्षेत्रों में भी कोरोना के मामलों में तेजी से वृद्धि हो रही है। राज्य के दूर दराज इलाके की पीएचसी तथा सीएचसी में डॉक्टर्स के लगभग 3 हजार पद रिक्त पड़े हैं। डॉक्टर्स के पद खाली रहने से प्रदेश के ग्रामीण इलाकों में स्क्रीनिंग व टेस्टिंग एवं अन्य जांचें प्रभावित होने तथा उपयुक्त स्वास्थ्य सुविधाओं की कमी के कारण कोरोना का प्रकोप तेजी से बढ़ रहा है।

Show More
Anil Chauchan Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned