अंतिम संस्कार के बाद आई रिपोर्ट, निकला कोरोना पॉजिटिव

जयपुर। जमवारामगढ़ उपखंड की ग्राम पंचायत बिरासना के गांव रामनगर में पिछले एक पखवाड़े से पेट की बीमारी के उपचार के लिए एसएमएस अस्पताल में भर्ती मरीज की बुधवार सुबह मौत हो गई। इसके बाद शव मिलने पर परिजनों ने बुधवार शाम 5 बजे के करीब अंतिम संस्कार कर दिया। फिर रात को पेट दर्द के मरीज की रिपोर्ट कोरोना पॉजिटिव आने पर प्रशासन और परिजनों सहित गांव में हड़कम्प मच गया।

By: ajay Sharma

Published: 23 Apr 2020, 08:47 PM IST

जयपुर। जमवारामगढ़ उपखंड की ग्राम पंचायत बिरासना के गांव रामनगर में पिछले एक पखवाड़े से पेट की बीमारी के उपचार के लिए एसएमएस अस्पताल में भर्ती मरीज की बुधवार सुबह मौत हो गई। इसके बाद शव मिलने पर परिजनों ने बुधवार शाम 5 बजे के करीब अंतिम संस्कार कर दिया। फिर रात को पेट दर्द के मरीज की रिपोर्ट कोरोना पॉजिटिव आने पर प्रशासन और परिजनों सहित गांव में हड़कम्प मच गया। सूचना पर प्रशासन गांव में पहुंचकर जांच में जुट गया है। इसके बाद प्रशासन ने पूरे गांव को सील कर दिया है।
नायब तहसीलदार जमवारामगढ़ राजेन्द्र मीणा ने बताया कि मृतक के परिजन सहित 36 लोगों को जयपुर सीतापुरा पूर्णिमा कॉलेज में बनाए गए क्वारेंटाइन सेंटर में भेजा गया। वहीं 56 लोगों को रामनगर स्थित स्कूल भवन में आइसोलेशन रका गया है। जमवारामगढ़ उपखंड क्षेत्र में पहले नेवर गांव के माणक चौक थाने में तैनात कांस्टेबल, एसएमएस अस्पताल में कार्यरत नोनपुरा निवासी वार्डब्वाय के बाद बिरासना के गांव रामनगर में कोरोना पॉजिटिव मिलने से पर प्रशासन ने गांव को सील कर दिया है।
उपखंड की ग्राम पंचायत बिरासना के गांव रामनगर में पेट में पथरी की बीमारी से ग्रसित मरीज की मौत होने पर बुधवार शाम अंतिम संस्कार में कई लोग शामिल हुए। ऐसे में प्रशासन और मेडिकल टीम उन्हे तलाश कर जांच में जुटी हुई है। सूत्रों के अनुसार प्रशासन की लापरवाही के चलते अन्तिम संस्कार में खासी संख्या में ग्रामीण शामिल हुए थे जो चिंता का कारण बना हुआ है।

Corona virus
ajay Sharma Photographer
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned