कोरोना अब लोगों की लड़ाई बना-गहलोत

मुख्यमंत्री ( Chief Minister ) अशोक गहलोत ( Ashok Gehlot ) ने कहा है कि देश में कोरोना ( Corona ) के मामले लगातार बढ़ रहे हैं और अब यह लोगों की लड़ाई ( Battle of the People ) बन गया हैं। ( Jaipur News )

By: sanjay kaushik

Published: 15 Sep 2020, 07:11 PM IST

-कोरोना जागरूकता संवाद कार्यक्रम

-देश के प्रसिद्ध डॉक्टरों के साथ प्रदेश की जनता से सीधे रू-ब-रू

-कहा, निरोगी राजस्थान अभियान से मिला फायदा

जयपुर। मुख्यमंत्री ( Chief Minister ) अशोक गहलोत ( Ashok Gehlot ) ने कहा है कि देश में कोरोना ( Corona ) के मामले लगातार बढ़ रहे हैं और अब यह लोगों की लड़ाई ( Battle of the People ) बन गया हैं। ( Jaipur News ) सीएम गहलोत मंगलवार को यहां वीडियो कांफ्रेङ्क्षसग के जरिए कोरोना जागरूकता संवाद कार्यक्रम में देश के प्रसिद्ध डॉक्टरों के साथ प्रदेश की जनता से सीधे रू-ब-रू हो रहे थे। उन्होंने कहा कि भारत विश्व में ऐसा देश बन गया है जहां रोज एक लाख से अधिक कोरोना के मामले आने लगे हैं और आज कोरोना लोगों की लड़ाई बन गया है। इसके लिए खुद आगे आना होगा।

-प्रोटोकॉल की पालना जरूरी

उन्होंने कहा कि कोरोना को लेकर राज्य सजग है और हमने हर स्तर पर काम किया है और कहीं कोई कमी नहीं रखी है। उन्होंने लोगों से अपील करते हुए कहा कि कोरोना के खिलाफ लापरवाही नहीं बरते, कोरोना को गंभीरता से लेकर इसके प्रोटोकॉल की पालना की जानी चाहिए। इससे बचाव ही इसका एक उपाय है। उन्होंने कहा कि चिकित्सकों ने मार्च में ही कोरोना के बारे में चेता दिया था और जिसका फायदा राजस्थान को मिला। हमने राजस्थान में स्वास्थ मित्र तैयार किए तथा निरोगी राजस्थान अभियान की शुरुआत की, जिसका कोरोना काल में फायदा मिला। उन्होंने खुशी जताते हुए कहा कि प्रदेश की आठ हजार पंचायत इस कार्यक्रम से जुड़ी हैं और इसका सोशल मीडिया पर भी प्रसारण हुआ।

-डर खत्म करने के लिए कार्यक्रम : रघु शर्मा

चिकित्सा मंत्री रघु शर्मा ने बताया कि इस कार्यकम के जरिए चिकित्सकों ने प्रदेश की जनता को कोरोना से बचने एवं इससे लडऩे के बारे में बताया। उन्होंने कहा कि अभी इसकी कोई दवा नहीं आई है और लोगों में कोरोना के प्रति डर न हो, इसलिए यह कार्यक्रम रखा गया। इस दौरान अधिकारियों ने चार्ट के माध्य से राजस्थान में कोरोना के लॉकडाउन और अनलॉक में आए मामलों में अंतर के बारे में बताते हुए प्रदेश में कोरोना से लडऩे के लिए किए गए इंतजाम की जानकारी दी।

-डॉक्टरों ने भी रखे विचार

सवाई मानङ्क्षसह अस्पताल अधीक्षक सुधीर भंडारी ने बताया कि राज्य में कोरोना जांच मार्च में ही शुरू कर दी गई थी और उस समय एसएमएस की टीम की ओर से जानकारी जुटाकर कोरोना पीडि़तों का इलाज किया गया। प्रसिद्ध चिकित्सक नरेश त्रेहान, देवी शेट्टी, एस.के. सरीन सहित देश के कई बड़े चिकित्सकों ने लोगों को कोरोना से बचाव एवं सावधानियों के बारे में बताया।

sanjay kaushik Incharge
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned