राहत की खबर : अब एसएमएस के चरक भवन में भी होगा कोरोना मरीजों का उपचार

प्रदेश में संक्रमण बढ़ने के बाद सरकार का निर्णय, 250 पलंग क्षमता है इस भवन की, जल्द शुरू होगा यहां इलाज

By: pushpendra shekhawat

Published: 19 Apr 2021, 07:11 PM IST

विकास जैन / जयपुर। प्रदेश में कोविड-19 संक्रमण का कहर बढ़ने के बाद राज्य सरकार ने सोमवार को बड़ा निर्णय लेते हुए सवाईमानसिंह अस्पताल के एक हिस्से को कोविड संक्रमितों के उपचार के लिए आरक्षित किया है। जल्द ही यहां चरक भवन में संक्रमितों का उपचार किया जाएगा। अभी इस भवन की 250 पलंग क्षमता है।

एसएमएस मेडिकल काॅलेज के प्राचार्य एवं नियंत्रक डाॅ.सुधीर भंडारी के अनुसार जल्द ही इस भवन में संक्रमितों का उपचार शुरू किया जाएगा। दरअसल, प्रदेश में संक्रमितों की संख्या तेजी से बढ़ने के बाद सबसे बड़े कोविड अस्पताल आरयूएचएस और जयपुरिया भी अब करीब करीब फुल होने को हैं।

इसे देखते हुए आरयूएचएस के पास ही स्थित स्पाइनल इंजरी सेंटर के 100 पलंग भी आरयूएचएस के संक्रमितों के लिए रखे गए हैं। ईएसआई अस्पताल को भी पूर्व में कोविड डेडिकेटड किया गया है।

नेत्र, ईएनटी और त्वचा रोग विभाग दूसरे हिस्से में

एसएमएस के इस चरक भवन में अभी नेत्र, ईएनटी और त्वचा रोगों का इलाज होता है। इनके आउटडोर और वार्ड सहित ओटी भी यहीं है। सोमवार को अस्पताल प्रशासन इन विभागों को अस्थायी तौर पर अस्पताल के दूसरे हिस्से में स्थानान्तरित करने में जुटा रहा। ईएनटी के वार्ड पहले से ही मुख्य भवन में हैं।

pushpendra shekhawat Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned