लॉकडाउन में नौकरी गई, फिर हो गया कोरोना, डिप्रेशन में आए युवक ने चौथी मंजिल से लगाई छलांग, मौत

जवाहर सर्किल थाना इलाके का मामला : पिछले साल कोरोना में नौकरी गई, संक्रमित होने पर घर में ही चल रहा था इलाज, मृतक युवक के पिता भी कोरोना संक्रमित, महात्मा गांधी अस्पताल में भर्ती

By: pushpendra shekhawat

Published: 17 May 2021, 08:43 PM IST

कमलेश अग्रवाल / जयपुर। कोरोना संक्रमित युवक चार मंजिल से कूद गया। जिससे युवक की मौत हो गई। संक्रमित युवक के पिता भी संक्रमित है जो महात्मा गांधी अस्पताल में भर्ती हैं। संक्रमण की वजह से युवक तनाव में बताया जा रहा है। मृतक सिद्धार्थ नगर निवासी गौरव जैन है। जवाहर सर्किल थाना पुलिस ने शव परिजनों को सौंप दिया।

सहायक पुलिस उपनिरीक्षक नरेश ने बताया कि मृतक गौरव जैन सिद्धार्थ नगर जवाहर सर्किल में अपने माता पिता के साथ रह रहा था। गौरव गुड़गांव के अंदर एक निजी कंपनी में एचआर में काम करता था। बीते एक साल से वह घर पर ही था, जिसकी वजह से डिप्रेशन में चल रहा था।

सोमवार सुबह चार बजे दवाई लेने की कहकर छत पर गया और चार मंजिला छत से सड़क पर छलांगा लगा दी। गिरने की तेज आवाज सुनकर मां घर से बाहर आई। जिन्होनें गौरव को सड़क पर गिरा हुआ देखा। यह देख उसने आस-पास के लोग भी जमा हो गए। सूचना पर पहुंची पुलिस ने उसे एक निजी अस्पताल में भिजवाया जहां डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया। पुलिस ने शव को परिजनों को सुपुर्द कर दिया।

पिता पुत्र दोनों कोरोना संक्रमित

गौरव के पिता सिद्धार्थ जैन पेशे से व्यापारी हैं। कोरोना से संक्रमित होने की वजह से उनका महात्मा गांधी अस्पताल में उपचार चल रहा हैं। पिता के लिए दवाईयां लाना उनका ध्यान रखना सभी काम गौरव के जिम्मे थे। बीते एक साल से नौकरी नहीं होने और लॉकडाउन की वजह से काम धंधे नहीं चलने की वजह से वह तनाव में आ गया था।

सीसीटीवी कैमरे में कैद हुआ

पुलिस ने बताया कि गौरव ने अलसुबह छलांग लगाकर की खुदकुशी। आस-पास लगे सीसीटीवी कैमरों की फुटेज में उसके गिरने का समय चार बजे का आ रहा हैं। पिता महात्मा गांधी अस्पताल में भर्ती हैं।

pushpendra shekhawat Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned