वैक्सीन से पहले कितनी परीक्षाएं देनी होगी सरकार

— सोशल डिस्टेंसिंग की उड़ रहीं धज्जियां

— प्रदेश में टीकों कि किल्लत, सेंटर्स पर तपती धूप में घंटों के इंतजार करना मजबूरी

By: Ankita Sharma

Updated: 17 Jul 2021, 01:35 PM IST

जयपुर। कोरोना के हमले से बचाव का एक की कवच है और वह है वैक्सीन। प्रदेश सरकार बड़े स्तर पर टीकाकरण अभियान शुरू करने के लिए भी तैयार है, लेकिन समस्या है मांग के अनुसार वैक्सीन की आपूर्ति नहीं होना। ऐसे में प्रदेशभर में लोगों को वैक्सीन के लिए मानों लंबी जंग लड़नी पड़ रही है। राजधानी जयपुर की बात हो या फिर झालावाड़, श्रीगंगानगर की हर जगह टीकों की किल्लत है। पहले ऐप में अपना नाम दर्ज करवाने की परीक्षा और फिर घंटों कतारों में खड़े होकर टीके के इंतजार का तप। मानों कोरोना वैक्सीन लगाने से पहले ही एक व्यक्ति को कई परीक्षाओं से गुजरना पड़ रहा है। कई जगह अव्यवस्थाओं से भी लोग दो—चार हो रहे हैं। वहीं टीकों की आस में लोग कोरोना से बचाव के दो प्रमुख नियम सोशल डिस्टेंसिंग और मास्क दोनों ही भूलते जा रहे हैं।

जयपुर में यहां हुआ विवाद

जयपुर के भांकरोटा थाना इलाके का मामला सिरसी क्षेत्र स्थित सरकारी स्कूल में आज सुबह कोरोना वैक्सीनेशन केन्द्र पर हंगामा हो गया। घंटों से कतारों में खड़े अपनी बारी का इंतजार कर रहे लोगों का आरोप था कि केंद्र में वैक्सीनेशन कर रहे लोग अपने चहेतों को वैक्सीन पहले लगा रहे हैं। गुस्साए ग्रामीणों ने मेनगेट की जाली तोड़कर अंदर घुस गए। जिससे भगदड़ का माहौल बन गया है। इस दौरान कोरोना गाइडलाइन की जमकर धज्जियां उड़ी। ग्रामीणों का आरोप है कि हम सुबह 7 बजे से लाइनों में लगे हुए है। लेकिन मिलीभगत के चलते डॉक्टर अपने चहेतों के वैक्सीन लगा रहे हैं। हंगामे के बाद वैक्सीन केन्द्र बंद कर दिया गया।

वैक्सीनेशन सेंटर पर उड़ीं गाइडलाइन धज्जियां

झालावाड़ में खानपुर ब्लॉक में 2 दिन बाद आई कोरोना की वैक्सीन के बाद एकाएक फिर से वैक्सीनेशन सेंटरों पर भीड़ जुटने से संक्रमण का खतरा फिर से बढ़ना शुरू हो गया है। खानपुर ब्लॉक के हरिगढ़ पीएचसी पर शनिवार को कोविड वैक्सीन सेंटर पर एकाएक भीड़ जुटने से संक्रमित होने का खतरा बरकरार है। भीड़ बेकाबू होकर सेंटर पर एकत्र हो गई। इस दौरान पुलिस को भी बुलाना पड़ा।

वैक्सीन से पहले कितनी परीक्षाएं देनी होगी सरकार

न सोशल डिस्टेंसिंग, न मास्क

जयपुर के हाथीबाबू का हत्था वार्ड 37 में आज वैक्सीनेशन कैंप लगाया गया। कैंप में बड़ी संख्या में लोग वैक्सीनेशन के लिए पहुंचे। लेकिन इस दौरान मास्क और सोशल डिस्टेंसिंग की अनिवार्यता वे भूल गए। सुबह शुरू होने वाला कैंप सुबह दस बजे तक भी शुरू नहीं हो सका। ऐसे में वैक्सीन लगवाने वालों की कतारें बढ़ती गई। और इस भीषण गर्मी में लोग पसीने में तरबतर अपनी बारी आने का इंतजार करते रहे। कुछ ऐसा ही हाल रामगंज में यूपीएचसी का रहा। यहां सुबह आठ बजे से ही टीके लिए कतारें लगना शुरू हो गया, लेकिन टीकाकरण सुबह दस बजे तक भी शुरू नहीं हो सका। लोग घंटों कतारों में खड़े रहे। कुछ ऐसा ही हाल गांधी नगर स्थित वैक्सीनेशन सेंटर का रहा।

वैक्सीन से पहले कितनी परीक्षाएं देनी होगी सरकार

 

यहां वैरिफिकेशन में आई परेशानी

वहीं श्रीगंगानगर के जैतसर पीएचसी पर आज सुबह वैक्सीनेशन के लिए लंबी कतारे नजर आईं। लेकिन यहां तकनीकी खराबी के कारण लाभार्थियों का वैरिफिकेशन नहीं हो पा रहा था। ऐसे में लोगों को भीषण गर्मी में घंटों लाइनों में लगा रहना पड़ा। आखिरकार लोगों का सब्र जवाब दे गया और गुस्सा फूट पड़ा।

वैक्सीन से पहले कितनी परीक्षाएं देनी होगी सरकार
Ankita Sharma
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned