ग्रह नक्षत्रों की युति भी वर्दी के पक्ष में

ग्रह नक्षत्रों की युति भी वर्दी के पक्ष में


जयपुर
वर्दी और अनुशासन का कारक माने जाने वाले मंगल ग्रह ने अपनी राशि बदल ली है। मंगल अपनी उच्च की राशि मकर में पहुंचा है। रविवार 22 मार्च को मंगल ने अपना स्थान बदला है। मंगल का यह स्थान परिवर्तन चार मई तक रहेगा। यानि चार मई तक मंगल मकर राशि में ही विचरण करेगा। इसके राशिगत प्रभाव भी देखने को मिलेगे लेकिन साथ ही वर्दी का कारक कहे जाने वाले मंगल के कारण चार मई तक वर्दी वालों की सख्ती और अच्छे बंदोबस्त देखने को मिलेंगे।

मंगल का राशि परिर्वतन लाता है बड़ा बदलाव
ज्योतिषाचार्य राजकुमार चतुर्वेदी ने बताया कि मंगल का राशि परिर्वतन अक्सर कुछ बड़ा परिवर्तन लाता है। वर्दी का कारक कहा जाने वाला मंगल सेना, पुलिस, चिकत्साकर्मी, सफाईकर्मी, वकालात के पेशे से ताल्लुक रखने वाले लोगों की सक्रियता बढाएगा। इसे यूं भी समझा जा सकता है कि चार मई तक वर्दी वालों के काम के चलते ही या उनकी व्यवस्था संभालने के चलते ही सुरक्षा का भाव जनता में आएगा। इस बीच उनकी सख्ती भी देखने को मिलेगी। कल यानि बुधवार से विक्रम संवत 2077 भी शुरू हो रहा है। प्रमादी नाम का नव संवतसर होने के कारण प्रजा में आने वाले दिनों में रोग, पीडा, हानि देखने को मिल सकती है।

मंगल का मतलब सफाई का पूरा ध्यान रखें
ज्योतिषियों के अनुसार मंगल वर्दी के साथ ही सफाई और सुविधा का भी कारक है। अपनी स्व राशि में होने कारण इसके योग और ज्यादा प्रबल हैं। यानि चार मई तक मंगल से संबधित कई प्रभाव देखने को मिल सकते हैं। सफाई का कारक होने के कारण चार मई घर, वाहन, कपडों और शरीर की सफाई पर बेहद ध्यान देना होगा। नहीं तो परेशानी का सामाना करना पड सकता है।

Corona virus
JAYANT SHARMA Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned