बंद हुई फैक्ट्रियों ​और मिलों के कार्मिकों के लिए एमएलए ने खोल दिया भंडारा

Dausa MLA Murari Lal Meena


जयपुर, दौसा
लॉक डाउन के बाद प्रदेश में और अन्य राज्यों में फैक्ट्रियों पर काम करने वाले अधिकतर मजदूरों के सामने अपने घर जाने का संकट खड़ा हो गया है। वाहन बंद होने के चलते मजदूर पैदल ही अपने घर जा रहे हैं। अधिकतर सफर रात के समय कर रहे हैं। इस बीच दौसा जिले से होकर गुजरने वाले लोगों के लिए दौसा एमएमए मुरारी लाल मीणा ने अस्थायी भंडारा खोला है। जिसमें पुडी और सब्जी बनवाकर उन लोगों को दी जा रही है और साथ ही कार्यकर्ताओं के वाहनों से उनको जिले की बॉर्डर पार कराई जा रही है।

कार्यकर्ताओं ने बताया कि दो दिन पहले इस तरह से कुछ लोग विधायक के पास पहुंचे थे इसके बाद विधायक ने करीब डेढ़ लाख रुपए दिए और हमकों पैदल सफर करने वाले लोगों के लिए तैयारी करने को कहा। जीरोता रोड पर स्थित पोलो टेक्निकल कॉलेज भडाना को फिलहाल अस्थायी भंडारा कम रैन बसेरा बनाया गया है। यहां हर रोज लोगों के लिए खाना तैयार हो रहा है। सत्तर से सौ कैरेट केले हर रोज दिए जा रहे हैं। बीस से ज्यादा वाहन कार्यकताओं के लगे हुए हैं जो जिले की सीमा पार करा रहे हैं।

गौरतलब है कि लॉक डाउन के बाद सैेकड़ों फैक्ट्रियां, कारखाने, और मिलें बंद हो गई हैं। इनमें काम करने वाले लोगों की संख्या हजारों—लाखों में हैं। ये कई राज्यों के रहने वाले हैं। लॉक डाउन की तारीख बढाने के बाद अब ये लोग जैसे—तैसे अपने घरों को निकल गए हैं। वाहन बंद हो जाने के कारण इन लोगों को परेशानी हो रही है। खाने पीने की परेशानी के साथ ही ट्रांसपोर्ट की भी परेशानी है। इसी परेशान का कल दौसा समेत कई जिलों में वहां के जन प्रतिनिधी निकालने में जुटे हुए हैं।

file pic

JAYANT SHARMA Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned