जेडीए अब बेचेगा छोटे—छोटे भूखंड

कोरोना वायरस के संक्रमण को रोकने के लिए लगाए गए लॉकडाउन (Lockdown) से जयपुर के विकास में अहम भूमिका निभाने वाले जयपुर विकास प्राधिकरण (Jaipur Development Authority) यानी जेडीए में भी आर्थिक स्थिति डगमगा गई है। जेडीए में राजस्व जुटाने के लिए अब जेडीसी टी. रविकांत ने नई योजना तैयार की है। इसके तहत उन्होंने सभी अधिकारियों से बड़े के स्थान पर छोटे-छोटे भूखण्डों (Residential plot) की नीलामी पर ज्यादा फोकस करने के लिए कहा है।

By: Girraj Sharma

Updated: 10 May 2020, 06:04 PM IST

जेडीए अब बेचेगा छोटे—छोटे भूखंड

— जेडीए ने खजाना भरने के लिए तैयार किया नया प्लान
— छोटे-छोटे आवासीय भूखण्डों की ई-नीलामी पर फोकस

जयपुर। कोरोना वायरस के संक्रमण को रोकने के लिए लगाए गए लॉकडाउन (Lockdown) से जयपुर के विकास में अहम भूमिका निभाने वाले जयपुर विकास प्राधिकरण (Jaipur Development Authority) यानी जेडीए में भी आर्थिक स्थिति डगमगा गई है। जेडीए में राजस्व जुटाने के लिए अब जेडीसी टी. रविकांत ने नई योजना तैयार की है। इसके तहत उन्होंने सभी अधिकारियों से बड़े के स्थान पर छोटे-छोटे भूखण्डों (Residential plot) की नीलामी पर ज्यादा फोकस करने के लिए कहा है।

जेडीए अधिकारियों की मानें तो लॉकडाउन से पहले जेडीए ने शहर की प्राइम लोकेशन पर स्थित बड़े आकार के भूखण्डों को बेचने का कई बार प्रयास किया, लेकिन बार-बार नीलामी करने के बाद भी खरीददार नहीं मिलने और मौजूदा बाजार की स्थिति को देखते हुए जेडीसी ने यह फैसला लिया है। जेडीए ने हाल ही अजमेर रोड पर एक योजना विकसित की थी, जिसमें छोटे भूखंडों के कई गुना अधिक आवेदन आए थे। इसे देखते हुए जेडीए ने अब छोटे—छोटे भूखंड बेचने का नया प्लान तैयार किया है।

जेडीए में हुई एक अहम बैठक में भी जेडीसी ने सभी जोन उपायुक्तों से उनके क्षेत्र में अच्छी लोकेशनों पर उपलब्ध छोटे-छोटे भूखण्डों का लैण्डबैंक तैयार कर उनको नीलाम करने के निर्देश दिए थे। जेडीसी के अनुसार अब मध्यम वर्ग की जरूरत को देखते हुए जेडीए सभी योजनाओं में छोटे-छोटे आवासीय भूखण्डों की ई-नीलामी पर विशेष फोकस रहेगा। उन्होंने सभी जोन उपायुक्तों को अपने-अपने जोन में छोटे भूखण्डों के प्रस्ताव शीघ्र तैयार करने के लिए निर्देश दिए।

मिला सकारात्मक परिणाम
हाल ही में लॉकडाउन में भी जेडीए ने बगराना रिंग रोड के पास एक छोटा भूखण्ड 21 लाख रुपए में बेचा है। ऐसे मंदी के दौर में भूखण्ड बिकने से जेडीए को उम्मीद बंधी है कि छोटे-छोटे भूखण्डों की बिक्री से जेडीए अपने आर्थिक ढांचे को धीरे-धीरे मजबूत कर सकता है।

पृथ्वीराज नगर योजना के लंबित पट्टे जल्द मिलेंगे

लॉकडाउन से पहले पृथ्वीराज नगर योजना के नियमन शिविरों में आवेदन करने वालों को जल्द ही अपने भूखंड और मकानों के पट्टे मिलेंगे। जेडीसी टी. रविकांत ने पृथ्वीराज नगर योजना के सभी जोन उपायुक्तों से निर्देश भी दिए है कि वे पट्टों के लंबित आवेदन पत्रों का शीघ्र निस्तारण कर पट्टे जारी करें। जिन पट्टों की डिमाण्ड राशि जारी की जा चुकी है, उनकी राशि शीघ्र जमा करवाई जाए। अतिरिक्त आयुक्त पीआरएन अवधेष सिंह की मानें तो लॉकडाउन समाप्त होने के बाद नियमन शिविर फिर से शुरू किए जाएंगे, इसकी कार्य योजना भी तैयार की जा रही है।

Girraj Sharma Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned