Coronavirus से हाहाकार के बीच राजस्थान के इस शख्स ने पेश की अनूठी मिसाल

कोरोना वायरस पूरी दुनिया में हाहाकार मचाए हुए है। ऐसे समय में एक श्रमिक पिता ने स्वेच्छा से बेटी का शादी समारोह निरस्त कर अनूठी मिसाल पेश की है।

जयपुर/बांसवाड़ा। कोरोना वायरस पूरी दुनिया में हाहाकार मचाए हुए है। सरकार इसे काबू में रखने के लिए लोगों से घरों में रहने की बात कह रही है। ऐसे समय में एक श्रमिक पिता ने स्वेच्छा से बेटी का शादी समारोह निरस्त कर अनूठी मिसाल पेश की है। इस अशिक्षित पिता की यह सोच सेल्यूट के काबिल इसलिए भी है कि विवाह के लिए इन्होंने पांच लाख रुपए ब्याज पर लिए हैं। खास बात है कि यह कदम पिता ने सरकार के पाबंदी लगाने से पहले ही ले लिया था।

पिता की जुबानी
सागवाडि़या निवासी वागजी ने बताया, 27 मार्च को उनकी बेटी बेटी सुशीला की शादी केसरपुरा के नवीन से होनी थी। कोरोना संक्रमण के खतरे की जानकारी मिलते ही उन्होंने शादी टालने का मन बनाया और परिवार से बात की। बेटी, बेटे और पत्नी की सहमति के बाद बेटी के ससुराल पक्ष में मशविरा किया। इस पर वर नवीन के पिता ने भी सभी को सुरक्षित रखने के लिए वागजी से सहमति जताई।

घर-घर जाकर किया मना
वागजी ने पहले रिश्तेदारों-परिचितों को शादी के लिए आमंत्रित किया था। बाद में बेटी के होने वाले ससुर के साथ पुन: रिश्तेदारों के यहां जाकर कार्यक्रम निरस्त होने की सूचना दी।

ये दिक्कतें करेंगी परेशान
वागजी केरल में एक मार्बल खदान में काम करता है। बेटी की शादी के लिए एक माह की छुट्टी लेकर आया था। इसके लिए उसने बड़ी रकम कर्ज पर ली। कोरोना वायरस ने सभी हिसाब-किताब गड़बड़ा दिया। एक ओर काम ठप हो गया और दूसरी ओर ब्याज बढ़ता जाएगा, लेकिन वागजी ने सभी को जोखिम में डालना उचित नहीं समझा।

coronavirus Coronavirus Outbreak What is Coronavirus?

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned