निगम सामुदायिक केन्द्रों की बदलेगी सूरत, बढ़ेगा किराया

  • जेडीए के सामुदायिक केन्द्रों के बराबर होगा किराया
  • महापौर व लाईसेंस समिति चेयरमैन ने किया दौरा

By: Girraj Sharma

Updated: 03 Jan 2019, 09:47 PM IST

जयपुर। शहर में स्थित नगर निगम के सामुदायिक केन्द्रों की जल्द ही सूरत बदलेगी। इसके साथ ही इन सामुदायिक केन्द्रों के किराए में भी बढ़ोतरी की जाएगी। निगम प्रशासन ने 20 से 30 हजार रुपए किराया निर्धारित करने की तैयारी की है। शहरी सरकार ने सामुदायिक केन्द्रों की दशा सुधारने की पहल राजापार्क स्थित तिलक नगर सामुदायिक केन्द्र से शुरू कर दी है। इसके लिए महापौर मनोज भारद्वाज व लाइसेस समिति चेयरमैन महेश कलवानी ने गुरुवार को दौरा कर सामुदायिक केन्द्र की सुध ली और इसके मरम्मत व रंग.रोगन आदि कराकर इसकी सूरत बदलने के निर्देश दिए।

नगर निगम के शहर में करीब 40 सामुदायिक केन्द्र है, इनमें 32 बड़े सामुदायिक केन्द्र हैं। इनमें कई सामुदायिक केन्द्र राजापार्क, बनीपार्क, अम्बाबाड़ी जैसे पॉश इलाकों में संचालित हो रहे हैं, लेकिन निगम प्रशासन की अनदेखी के चलते इनकी सुध नहीं ली जा रही है। निगम सूत्रों का कहना है कि इनका किराया भी वर्षों पहले निर्धारित किया गया है, वहीं चल रहा है। इसके चलते निगम प्रशासन को इन केन्द्रों से खास आय भी नहीं हो रही है। महापौर मनोज भारद्वाज व चेयरमैन महेश कलवानी के नेतृत्व में लाइसेंस समिति सदस्य नीरज राणावत आदि ने सुबह तिलक नगर सामुदायिक केन्द्र का निरीक्षण किया। प्राइम लोकेशन पर होने और अमुमन शादी-पार्टियों के लिए बुक रहने के बाद भी सामुदायिक केन्द्र बदहाल नजर आया। इस पर समिति चेयरमैन कलवानी ने मौके पर निगम अधिकारियों से सामुदायिक केन्द्र से होने वाली आय.व्यय ब्यौरे की जानकारी ली। अधिकारियों ने सामुदायिक केन्द्र का किराया सिर्फ 6 हजार रुपए होना बताया। इस पर महापौर भारद्वाज ने किराए की समीक्षा कर जेडीए की ओर से वसूल किए जा रहे किराए के बराबर किराना निर्धारित करने के अधिकारियों को निर्देश दिए। इस किराए को तुरंत प्रभाव से लागू करने की बात भी कही।

Girraj Sharma Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned