गहलोत शासन में राज्य में करप्शन नीचे से लेकर ऊपर तक नसों में चला गया

लेबर कमिश्नर प्रतीक झाझड़िया और दो दलालों के बीच रिश्वत के 'खेल' पर हुई एसीबी की कार्रवाई को लेकर भाजपा ने सरकार को घेरा है। भाजपा प्रदेशाध्यक्ष सतीश पूनियां और उपनेता प्रतिपक्ष राजेंद्र राठौड़ ने सरकार को करप्शन में डूबा हुआ बताया।

By: Umesh Sharma

Published: 27 Jun 2021, 08:45 PM IST

जयपुर।

लेबर कमिश्नर प्रतीक झाझड़िया और दो दलालों के बीच रिश्वत के 'खेल' पर हुई एसीबी की कार्रवाई को लेकर भाजपा ने सरकार को घेरा है। भाजपा प्रदेशाध्यक्ष सतीश पूनियां और उपनेता प्रतिपक्ष राजेंद्र राठौड़ ने सरकार को करप्शन में डूबा हुआ बताया।

भाजपा मुख्यालय पर पूनियां ने कहा कि मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के शासन में राज्य में करप्शन नीचे से लेकर ऊपर तक नशों में चला गया है। राज्य में जिस तरीके से करप्शन की लंबी फेहरिस्त बढ़ती जा रही है, जो बहुत ही चिंता का गंभीर विषय है। एसीबी की कार्रवाई सराहनीय है, जो इस तरीके के भ्रष्टाचारी लोगों को पकड़ती है। पूनियां ने कहा कि सरकार जब कमजोर होती है, तो इस तरह की गतिविधियां बढ़ती हैं। किसी भी महकमे को देख लें करप्शन के मामले बढ़ रहे हैं। मुझे लगता है कि जब सरकार मानसिकता और नीयत कमजोर होती है तो वह साथ नैतिक रूप से कमजोर होती, जिससे भ्रष्टाचार का बोलबाला ज्यादा होता है। राजस्थान में इस तरीके के दृश्य पहली बार देखने को मिला है कि जिसमें ऊपर से लेकर नीचे तक भ्रष्टाचार की चर्चा हो रही है, सरकार को भ्रष्टाचार पर अंकुश लगाने के लिये कोई विशेष कार्ययोजना बनानी चाहिए।

राठौड़ बोले कुछ ना कुछ गड़बड़ है

प्रतिपक्ष के उपनेता राजेंद्र राठौड़ ने सोशल मीडिया पर सरकार को घेरा। उन्होंने लिखा कि लूट-खसोट का खुलासा करने के लिए एसीबी को धन्यवाद। सवाल ये है कि भारतीय डाक सेवा 2011 बैच के अफसर प्रतीक झाझड़िया को किसकी सिफारिश पर राजस्थान में लेबर कमिश्नर के पद पर प्रति नियुक्ति पर लगाया ? सत्ता के बेहद करीबी रहे अफसर के मारवाड़ के सत्ता के बड़े नेता के साथ निकटता की चर्चाएं क्यों उठ रही हैं ? कहीं न कहीं, कुछ न कुछ गड़बड़ तो अवश्य है। आखिर इस व्यापक भ्रष्टाचार की गंगोत्री का स्त्रोत कहां से प्रारंभ हुआ ? यह रिश्ता क्या कहलाता है, बात निकलेगी तो बहुत दूर तलक जाएगी।

Umesh Sharma Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned