scriptCounting of Panchayat elections in Alwar-Dholpur district | अलवर-धौलपुर जिले में पंचायत चुनाव की मतगणना जारी, जो हारा वो होगा बाड़ाबंदी से बाहर | Patrika News

अलवर-धौलपुर जिले में पंचायत चुनाव की मतगणना जारी, जो हारा वो होगा बाड़ाबंदी से बाहर

-अलवर और धौलपुर जिला मुख्यालयों पर सुबह 9 बजे शुरू हुई मतगणना,दोपहर 1 बजे तक साफ होगी चुनावी तस्वीर साफ,दोनों जिलों में 72 जिला परिषद सदस्यों और 492 पंचायत समिति सदस्यों के लिए होगा चुनाव,भाजपा कांग्रेस ने कर रखी है अपने-अपने प्रत्याशियों की बाड़ाबंदी

जयपुर

Updated: October 29, 2021 09:55:07 am

जयपुर। प्रदेश के अलवर और धौलपुर जिले में पंचायत जिला परिषद चुनाव के 3 चरणों में चुनाव संपन्न होने के बाद आज पंचायत और जिला परिषद चुनाव की मतगणना शुरू हो गई। दोनों जिला मुख्यालयों पर सुबह 9 बजे से मतगणना शुरू हुई है, माना जा रहा है कि दोपहर 1 बजे तक पंचायत और जिला परिषद चुनाव की हार-जीत का फैसला हो जाएगा।

voting
voting

वहीं दूसरी ओर जो कांग्रेस-भाजपा या अन्य दलों का जो भी प्रत्याशी चुनाव हारेगा वो बाड़ाबंदी से बाहर हो जाएगा। 26 अक्टूबर को तीसरे चरण का चुनाव संपन्न होने के साथ ही कांग्रेस और भाजपा ने सेंधमारी की आशंका के चलते अपने-अपने पंचायत और जिला परिषद सदस्यों की बाड़ाबंदी कर दी थी।

निर्दलीय और बागियों की होगी बाड़ाबंदी में एंट्री
आज चुनाव परिणाम के बाद जहां भाजपा-कांग्रेस का जो भी अधिकृत प्रत्याशी चुनाव हारेगा। वो बाड़ाबंदी से बाहर हो जाएगा। उनकी जगह बागी और निर्दलीय प्रत्याशी लेंगे। राज्य में सत्तारूढ़ कांग्रेस लगातार अपने बागियों और निर्दलीय के संपर्क में है। चुनाव परिणाम के बाद बोर्ड बनाने के लिए बागियों औक निर्दलीयों का सहारा लिया जाएगा।

इसलिए कांग्रेस ने नहीं की थी बागियों पर कार्रवाई
वहीं दूसरी ओर पंचायत जिला परिषद चुनाव में पार्टी से बगावत कर चुनाव मैदान में कूदे प्रत्याशियों के खिलाफ कांग्रेस पार्टी की ओर से अनुशासनात्मक कार्रवाई नहीं करने की वजह भी यही है कि चुनाव परिणाम के बाद बोर्ड बनाने की बारी आएगी तो निर्दलीय और बागियों का सहारा लिया जाएगा। इसी को ध्यान में रखते हुए कांग्रेस ने बागियों पर कार्रवाई से परहेज किया था।

दो जिला परिषद, 13 जिला पंचायत सदस्य निर्विरोध
इससे पहले दोनों जिलों में नामांकन वापसी के बाद दो जिला परिषद सदस्यों और 13 पंचायत समिति सदस्य निर्विरोध चुने गए थे।

भाजपा-कांग्रेस के अधिकृत प्रत्याशियों के पोलिंग एजेंट ही मतगणना में शामिल
भाजपा-कांग्रेस के प्रत्याशियों की बाड़ाबंदी के चलते उनकी जगह उनके पोलिंग एजेंट ही मतगणना स्थल पर जाकर मतगणना में शामिल हुए । मतगणना स्थल पर कोविड-19 प्रोटोकॉल की पालना सख्ती के साथ करवाई गई।

जीत के बाद जुलूस- रैली पर प्रतिबंध
इधर राज्य निर्वाचन आयोग ने पंचायत जिला परिषद चुनाव में जीत के बाद प्रत्याशियों के विजयी जुलूस, रैली और आमसभा करने पर प्रतिबंध लगाया है। जीत के बाद प्रत्याशी किसी प्रकार का जश्न नहीं मना पाएंगे।

प्रधान-प्रमुख प्रत्याशी की घोषणा आज
अलवर और धौलपुर जिलों में भाजपा-कांग्रेस की ओर से जिला प्रमुख और प्रधान उम्मीदवार की घोषणा आज शाम तक की जाएगी। उसके बाद शनिवार को जिला प्रमुख और प्रधान पद के लिए मतदान होगा। दोनों जिलों में 2 जिला प्रमुख और 22 प्रधान का चुनाव होना है। उसके बाद 31 अक्टूबर को 2 उप जिला प्रमुख और 22 उप प्रधान के चुनाव चुनाव होने हैं।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

बड़ी खबरें

Republic Day 2022: परम विशिष्ट सेवा मेडल के बाद नीरज चोपड़ा को पद्मश्री, देवेंद्र झाझरिया को पद्म भूषणRepublic Day 2022: 939 वीरों को मिलेंगे गैलेंट्री अवॉर्ड, सबसे ज्यादा मेडल जम्मू-कश्मीर पुलिस कोस्वास्थ्य मंत्री ने कोरोना हालातों पर राज्यों के साथ की बैठक, बोले- समय पर भेजें जांच और वैक्सीनेशन डाटाBudget 2022: कोरोना काल में दूसरी बार बजट पेश करेंगी निर्मला सीतारमण, जानिए तारीख और समयमुख्यमंत्री नितीश कुमार ने छोड़ा BJP का साथ, UP चुनावों में घोषित कर दिये 20 प्रत्याशीAloe Vera Juice: खाली पेट एलोवेरा जूस पीने से मिलते हैं गजब के फायदेगणतंत्र दिवस और स्वतंत्रता दिवस पर झंडा फहराने में क्या है अंतर, जानिए इसके बारे मेंRepublic Day 2022: गणतंत्र दिवस परेड में हरियाणा की झांकी का हिस्सा रहेंगे, स्वर्ण पदक विजेता नीरज चोपड़ा
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.