8 माह 13 दिन बाद 1 दिसम्बर से खुलेगा गोविंददेवजी मंदिर

कोविड 19 (COVID 19) के चलते पिछले 257 दिन से दर्शनार्थियों के लिए बंद गोविंददेवजी मंदिर (Govinddev Temple) एक दिसम्बर से खोल दिए जाएंगे। भक्त सुबह सुबह 7.45 बजे से दोपहर 12 बजे की झांकियों के दर्शन कर सकेंगे। सुबह मंगला झांकी में लोगों का प्रवेश निषेध रहेगा। वहीं शाम 4 बजे से 6.30 बजे तक भक्त मंदिर में ठाकुरजी के दर्शन कर सकेंगे। शयन झांकी के लोग दर्शन नहीं कर पाएंगे।

By: Girraj Sharma

Published: 29 Nov 2020, 09:16 PM IST

8 माह 13 दिन बाद 1 दिसम्बर से खुलेगा गोविंददेवजी मंदिर

— सुबह 7.45 से दोपहर 12 बजे कर सकेंगे दर्शन
— शाम 4 बजे से 6.30 बजे तक कर सकेंगे दर्शन
— मंगला और शयन झांकी में दर्शनार्थियों का प्रवेश रहेगा निषेध

जयपुर। कोविड 19 (COVID 19) के चलते पिछले 257 दिन से दर्शनार्थियों के लिए बंद गोविंददेवजी मंदिर (Govinddev Temple) एक दिसम्बर से खोल दिए जाएंगे। भक्त सुबह सुबह 7.45 बजे से दोपहर 12 बजे की झांकियों के दर्शन कर सकेंगे। सुबह मंगला झांकी में लोगों का प्रवेश निषेध रहेगा। वहीं शाम 4 बजे से 6.30 बजे तक भक्त मंदिर में ठाकुरजी के दर्शन कर सकेंगे। शयन झांकी के लोग दर्शन नहीं कर पाएंगे।

कार्तिक माह के साथ कई व्रत—पर्व के बाद शहर के आराध्य गोविंददेवजी का मंदिर भक्तों के लिए खुलेगा। इस बीच मंदिर प्रबंधन ने कोरोना के मदृदेनजर तैयारियों को पूरा कर लिया है। मंदिर को सेनेटाइज कर दिया गया है। भक्तों के प्रवेश के लिए अलग—अलग कतारों के लिए बेरिकेडिंग कर दी गई है। मंदिर में भक्त चार लाइनों से ही प्रवेश कर सकेंगे। मंदिर प्रबंधक मानस गोस्वामी ने बताया मंदिर से आने जाने वाले सभी गेटों के बाहर आयुर्वेदिक सेनेटाइजेशन, थर्मल स्केनिंग की व्यवस्था की गई है। इसके साथ ही कम समय में भक्तों से दर्शन कर तुरंत बाहर आने की अपील की जाएगी। भक्तों को मास्क लगाकर आने पर ही प्रवेश दिया जाएगा।

यह रहेगा समय
रात्रिकालीन कर्फ्यू के चलते लोग ठाकुरजी के सुबह 7.45 से दोपहर 12 बजे तक और शाम को 4 बजे से 6.30 बजे तक दर्शन कर सकेंगे। इस बीच सुबह शृंगार और राजभोग सेवा के लिए 10 मिनट पट बंद रहेगा। वहीं शाम को ग्वाल भोग सेवा के लिए भी पट 10 मिनट तक बंद रहेंगे। मंगला और शयन झांकी में आम दर्शनार्थियों का प्रवेश निषेध रहेगा। भक्त परिक्रमा आदि फिलहाल नहीं लगा सकेंगे। साथ ही तुलसी और चंदन का वितरण भी नहीं होगा। भक्त चार लाइनों के जरिए कम समय में प्रवेश कर तुरंत दर्शन कर बाहर आ सकेंगे।

Girraj Sharma Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned