मोती डूंगरी गणेशजी के पट सुबह 6.30 बजे खुलेंगे, शाम 7.30 बजे होंगे मंगल

कोरोना संक्रमण (Corona infection) के चलते राजधानी में रात 8 बजे से सुबह 6 बजे तक रात्रिकालीन कर्फ्यू (Night curfew) लगाने से मोती डू्ंगरी गणेशजी मंदिर (Moti Dungri Ganeshji Temple) में दर्शनों के समय में बदलाव किया गया है। मोती डूंगरी गणेशजी के दर्शनार्थियों के लिए पट सुबह 6.30 बजे खुलेंगे। भक्त सुबह 6.30 बजे बाद ही मोती डूंगरी गणेशजी महाराज के दर्शन कर सकेंगे। वहीं शाम 7.30 बजे गजानन महाराज के पट मंगल होंगे। इससे पहले शाम 7.15 बजे शयन आरती होगी।

By: Girraj Sharma

Updated: 09 Apr 2021, 09:11 PM IST

मोती डूंगरी गणेशजी के पट सुबह 6.30 बजे खुलेंगे, शाम 7.30 बजे होंगे मंगल
— रात्रिकालीन कर्फ्यू का समय बढ़ाने से बदला समय
— दर्शनार्थियों के लिए पट सुबह 6.30 बजे खुलेंगे
— मंगला आरती सुबह 5 बजे बंद पट में ही होगी
— शयन आरती शाम 7.15 बजे होगी

जयपुर। कोरोना संक्रमण (Corona infection) के चलते राजधानी में रात 8 बजे से सुबह 6 बजे तक रात्रिकालीन कर्फ्यू (Night curfew) लगाने से मोती डू्ंगरी गणेशजी मंदिर में दर्शनों के समय में बदलाव किया गया है। मोती डूंगरी गणेशजी के दर्शनार्थियों के लिए पट सुबह 6.30 बजे खुलेंगे। भक्त सुबह 6.30 बजे बाद ही मोती डूंगरी गणेशजी महाराज के दर्शन कर सकेंगे। वहीं शाम 7.30 बजे गजानन महाराज के पट मंगल होंगे। इससे पहले शाम 7.15 बजे शयन आरती होगी।
मंदिर महंत कैलाश शर्मा ने बताया कि सरकार की ओर से रात्रिकालीन कर्फ्यू का समय बढ़ाने से गजानन महाराज के दर्शनों के समय में बदलाव किया है। मंगला आरती सुबह 5 बजे बंद पट में ही होगी, भक्त मंगला आरती में गजानन महाराज के दर्शन नहीं कर सकेंगे। दर्शनार्थियों के लिए मंदिर के पट सुबह 6.30 बजे खोले जाएंगे। वहीं शयन आरती शाम 7.15 बजे होगी, मंदिर के पट शाम 7.30 बजे मंगल होंगे।

Girraj Sharma Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned