कोरोना काल में पुलिस की चांदी, ऐसे कमा रही है करोड़ों रुपए

अनलॉक के बाद इसका प्रसार प्रदेश ही नहीं देश में भी इतनी तेजी से हो रहा है कि अब दुनिया में नंबर एक की ओर बढ़ रहे हैं। लेकिेन इतना होने के बाद भी प्रदेश में कई लोग मास्क लगाने के बेस नियम को ही फॉलो नहीं कर रहे हैं।

By: JAYANT SHARMA

Published: 24 Jul 2020, 11:50 AM IST


जयपुर
राजस्थान में हर दिन कोरोना के रिकॉर्ड टूटते जा रहे हैं। अनलॉक के बाद इसका प्रसार प्रदेश ही नहीं देश में भी इतनी तेजी से हो रहा है कि अब दुनिया में नंबर एक की ओर बढ़ रहे हैं। लेकिेन इतना होने के बाद भी प्रदेश में कई लोग मास्क लगाने के बेस नियम को ही फॉलो नहीं कर रहे हैं। ऐसे लोगों के खिलाफ लगातार कार्रवाई भी हो रही है लेकिन उसके बाद भी हालात नहीं सुधर रहे हैं। अब तक प्रदेश मे एक लाख बीस हजार से भी ज्यादा लोगों के खिलाफ कार्रवाई हो चुकी है जो सिर्फ मास्क नहीं पहन रहे, अन्य उल्लघंनों की सूची लगातार लंबी होती जा रही है।

साढ़े चार करोड़ से ज्यादा तो जुर्माना वसूल चुकी है पुलिस
प्रदेश में वैश्विक महामारी कोरोना वायरस के संक्रमण की रोकथाम के लिए लागू राजस्थान एपिडेमिक अध्यादेश के तहत अब तक 2 लाख 94 हजार से अधिक व्यक्तियों का चालान कर 4 करोड 61 लाख रूपये से अधिक का जुर्माना वसूल किया जा चुका है। सार्वजनिक स्थलों पर मास्क नहीं लगाने पर 1 लाख 24 हजार 894, बिना मास्क पहने लोगों को सामान बेचने पर 9232, निर्धारित सुरक्षित भौतिक दूरी नहीं रखने पर 1 लाख 59 हजार 284 व्यक्तियों के चालान किये गये है। सार्वजनिक स्थलों पर थूकंने वाले, शराब का सेवन करने वाले व्यक्तियों एवं सार्वजनिक स्थलों पर गुटखा-तम्बाकू का सेवन करने वाले व्यक्तियों के खिलाफ कार्यवाही की गयी है।

क्वारेंटीन नियम तोड़ने वाले भी कम नहीं, वे भी पुलिस की नजर में
डीजीपी भूपेन्द्र सिंह ने बताया कि निषेधाज्ञा तथा क्वारंटाईन मापदण्डों का उल्लघंन करने पर 3 हजार 515 एफआईआर दर्ज कर अब तक 7 हजार 356 व्यक्तियों को गिरफ्तार किया गया। निषेधाज्ञा व एमवी एक्ट के तहत 6 लाख 56 हजार 289 वाहनों का चालान एवं 1 लाख 52 हजार 490 वाहनों को जब्त किया गया एवं करीब 11 करोड़ 32 लाख रुपये से अधिक जुर्माना वसूल किया जा चुका है। प्रदेश में 22 हजार 777 व्यक्तियों को सीआरपीसी के प्रावधानों के तहत शांति भंग के आरोप में गिरफ्तार किया गया। पुलिस ने सोशल मीडिया के दुरुपयोग के मामलों में अब तक 218 मुकदमे दर्ज कर 300 असामाजिक तत्वों के खिलाफ अभियोग दर्ज किया है एवं 227 को गिरफ्तार किया गया है। लॉक डाउन के दौरान काला बाजारी करते पाये गये दुकानदारों के विरुद्ध आवश्यक वस्तु अधिनियम के तहत 139 मुकदमे दर्ज कर 97 को गिरफ्तार किया गया एवं 43 मामलों में चार्जशीट दाखिल की जा चूकी हेै।


रात दस से सवेरे पांच बजे तक है सब कुछ बंद
डीजीपी बताया कि पुलिस द्वारा निर्धारित प्रावधानों के तहत प्रभावी कार्रवाई की जा रही है। वर्तमान में रात्रि 10 बजे से प्रातः 5 बजे तक सभी गतिविधियों निषिद्ध है। उन्होंने आमजन से चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग द्वारा जारी गाइडलाइंस की अनुपालना करने, मास्क पहनने, सोशल डिस्टेंसिग रखने एवं हाथ धोने के प्रति विशेष सतर्कता बरतने का आग्रह किया है। उन्होने बताया कि कोरोना सक्रंमण की रोकथाम के लिए इन नियमों की अनुपालना नहीं करने वालो के विरूद्व नियमानुसार कार्यवाही अमल में लायी जा रही है।

JAYANT SHARMA Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned