यहां समझें...वैक्सीन लगवाने से पहले और बाद में ध्यान रखनी है कौनसी बातें

पिछले कुछ दिनों में आमजन को दोहरी राहत मिली है। कमजोर पड़ते कोरोना के बीच भारत ने न सिर्फ इस महामारी पर काफी हद तक काबू पाया बल्कि कोविड वैक्सीन की उपलब्धता भी हासिल कर ली। अब शनिवार को भारत में दुनिया के सबसे बड़े टीकाकरण अभियान की शुरुआत हो गई है।

By: kamlesh

Published: 16 Jan 2021, 04:29 PM IST

जयपुर। पिछले कुछ दिनों में आमजन को दोहरी राहत मिली है। कमजोर पड़ते कोरोना के बीच भारत ने न सिर्फ इस महामारी पर काफी हद तक काबू पाया बल्कि कोविड वैक्सीन की उपलब्धता भी हासिल कर ली। अब शनिवार को भारत में दुनिया के सबसे बड़े टीकाकरण अभियान की शुरुआत हो गई है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से इसका शुभारंभ किया। राजस्थान में मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने राज्य स्तरीय कोविड वैक्सीनेशन कार्यक्रम का आगाज किया। इसके साथ ही सभी जिलों में कोरोना टीकाकरण शुरू हो गया। पढ़िए इस खास दिन पर खास रिपोर्ट, कि किस तरह कोरोना खात्मे की ओर बढ़ रहा है और हम किस तरह बढ़ रहे हैं न्यू नॉर्मल की ओर।

जानिए उन सवाओं के जवाब, जो आपके मन में उठते रहे हैं

- सवाल: क्या 28 दिन बाद भी समान टीका लगेगा या अगला टीका अलग है?
- जवाब: पहले टीके और दूसरे टीके में कोई अंतर नहीं है, दोनों एक समान हैं।

- सवाल: क्या 28 दिन बाद लगने वाले टीके भी एडवांस में आ चुके हैं?
- जवाब: हां, पहला टीका लगवाने वाले कार्मिकों के लिए 28वें दिन का टीका भी एडवांस में रिजर्व रखा जा रहा है

- सवाल: कोविड वैक्सीन की अगली खेप अब कब तक राजस्थान को मिल पाएगी?
- जवाब: टीके की दूसरी खेप की आपूर्ति केन्द्र पर निर्भर है, वहीं से तय होगा कि कितने टीके अब कब आएंगे

- सवाल: जिन्हें टीका लगेगा, उन्हें ठीक 28 दिन बाद दूसरा टीका लगाना होगा। ऐसे लोगों की मॉनीटरिंग कैसे होगी, कैसे तय होगा कि वे दूसरे टीके लिए उपस्थित हों?
- जवाब: पहला टीका लगवाने वालों को 28वें दिन का पुन: मोबाइल से ही वैक्सीन लगवाने के लिए संदेश जाएगा

- सवाल: यदि कोई 28 वें दिन टीका नहीं लगवा पाया तो क्या होगा?
- जवाब: समय सीमा 28 दिन की है, लेकिन इसके बाद भी चिकित्सक से परामर्श के बाद कुछ सप्ताह तक टीका लगवाया जा सकता है

- सवाल: दो तरह के टीके आ रहे हैं तो कैसे तय होगा कि कहां किसे कौनसा टीका लगेगा?
- जवाब: सरकार ने इस समय तक कोवैक्सीन और कोविशील्ड दो तरह की वैक्सीन को इमरजेंसी अनुमति दी है और दोनों को ही उपयुक्त माना है। अब यह विभाग तय कर रहा है कि किस सेंटर पर कौनसी वैक्सीन उपलब्ध रहेगी

- सवाल: टीका लगवाने के बाद कोई दुष्प्रभाव नजर आते हैं तो क्या करें?
- जवाब: दुष्प्रभाव महसूस होने पर तुरंत संबंधित वैक्सीन सेंटर या नजदीकी सरकारी अस्पताल के चिकित्सक से संपर्क करना चाहिए

- सवाल: क्या टीका लगवाना अनिवार्य है, मैं नहीं लगवाना चाहूं तो?
- जवाब: टीका लगवाना स्वेच्छिक है

- सवाल: आम आदमी का नंबर कब तक आएगा?
- जवाब: यह केन्द्र सरकार अब तय करेगी

- सवाल: क्या आम आदमी को बाजार से टीका खरीदकर लगवाना होगा?
- जवाब: यह भी केन्द्र सरकार अब तय करेगी

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned