scriptCredit score is everything, let us tell how it will improve | credit score: क्रेडिट स्कोर ही है सब कुछ, कैसे सुधरेगा आइए हम बताते हैं | Patrika News

credit score: क्रेडिट स्कोर ही है सब कुछ, कैसे सुधरेगा आइए हम बताते हैं

लोन लेने के लिए आपका क्रेडिट स्कोर सबसे महत्वपूर्ण है। यह स्कोर ही तय करता है कि आपको कितना लोन मिल सकता है और उसकी ब्याज दर क्या होगी। जिन लोगों का क्रेडिट स्कोर बढ़िया होता है, उन्हें आसानी से लोन मिल जाता है।

जयपुर

Published: May 23, 2022 01:10:18 pm

लोन लेने के लिए आपका क्रेडिट स्कोर सबसे महत्वपूर्ण है। यह स्कोर ही तय करता है कि आपको कितना लोन मिल सकता है और उसकी ब्याज दर क्या होगी। जिन लोगों का क्रेडिट स्कोर बढ़िया होता है, उन्हें आसानी से लोन मिल जाता है। जिनका स्कोर खराब होता है, उन्हें दिक्कत आती है, या फिर लोन मिलता ही नहीं है। अपने क्रेडिट स्कोर को सुधारने के लिए हम आपको कुछ टिप्स देते है, जिनके उपयोग से आप भी बैंकों के अच्छे ग्राहकों की सूची में आ जाएंगे। अपने अच्छे ग्राहकों को बैंक समय—सम्य पर कई योजनाओं का लाभ देते रहते है।
credit score: क्रेडिट स्कोर ही है सब कुछ, कैसे सुधरेगा आइए हम बताते हैं
credit score: क्रेडिट स्कोर ही है सब कुछ, कैसे सुधरेगा आइए हम बताते हैं
क्या होता है क्रेडिट स्कोर
क्रेडिट स्कोर आपकी लोन चुकाने की योग्यता को दर्शाता है, जिसके अनुसार लोन की राशि और समय तय होता है। किसी व्यक्ति का क्रेडिट स्कोर 300 से 900 के बीच होता है। 750 से अधिक के क्रेडिट स्कोर को बेहतर माना जाता है। जिनका स्कोर इतना है, वह अनेक प्रकार के लोन ले सकते है। जितने आप 900 अंक के समीप होते हैं, लोन के मिलने की आपकी संभावना और बेहतर होती चली जाती है। लोगों को हमेशा अपना क्रेडिट स्कोर मजबूत रखना चाहिए, क्योंकि इस बात का अंदाजा नहीं लगा सकते हैं कि आपको कब लोन की जरूरत हो सकती है। अचानक आपको लोन की जरूरत पड़ती है, लेकिन आपका स्कोर खराब होने के कारण अस्वीकार कर दिया जाता है।
समय पर भुगतान करें
क्रेडिट स्कोर की गणना में समय पर भुगतान का सबसे बड़ा प्रभाव होता है। समय पर भुगतान करने से आपका स्कोर बढ़ता है। यदि आप देर करते हैं, तो इसमे कमी आती है। देरी से भुगतान करने पर, फिर चाहे वे क्रेडिट कार्ड की पेमेंट हों या आपकी ईएमआई, उसका आपके क्रेडिट इतिहास पर नकारात्मक प्रभाव डालता है और बैंक या कंपनियां इसे पसंद नहीं करते हैं।
क्रेडिट लिमिट का उपयोग न करें
क्रेडिट कार्ड के साथ उसके खर्च करने की लिमिट जुड़ी रहती है। इस लिमिट को बैंक आपके वेतन और क्रेडिट स्कोर पर विचार करने के बाद तय करता है। जितनी आपकी आय और क्रेडिट स्कोर अधिक होगा, आपकी खर्च करने की लिमिट भी उतनी अधिक होगी। लेकिन अपने खर्च करने की लिमिट तक बार-बार पहुंचने से आपका क्रेडिट स्कोर कम हो जाता है। इसलिए अपने खर्च करने की लिमिट तक न पहुंचे और 60 फीसदी कार्ड लिमिट का ही उपयोग करे। आपातस्थिति में अधिक खर्च कर सकते हैं लेकिन नियमित रूप से अधिक खर्च करना क्रेडिट स्कोर के लिए खराब है।
क्रेडिट कार्ड पर आंशिक भुगतान से बचें
क्रेडिट कार्ड पर ग्राहकों को न्यूनतम आंशिक भुगतान करने की छूट दी जाती है। यह आपके बैलेंस की 5 फीसदी राशि होती है। इससे उधारकर्ता इस बात को लेकर गलती कर बैठते हैं कि न्यूनतम पेमेंट पर्याप्त है। लेकिन, बैलेंस पर हर महीने 3 से 4 फीसदी ब्याज वसूला जाता है, जो बहुत अधिक होता है। साथ ही इससे आपका स्कोर भी कम होता है।
लोन इंक्वायरी
जब भी आप लोन के लिए आवेदन करते हैं तो बैंक या लोन संस्थान क्रेडिट ब्यूरो से आपकी क्रेडिट रिपोर्ट प्राप्त करने के लिए आवेदन करते हैं, इसे हार्ड इन्क्वायरी के रूप में जाना जाता है। आपके लिए कितनी बार हार्ड इन्क्वायरी हुई है इसकी जानकारी आपकी क्रेडिट रिपोर्ट में दर्ज की जाती है और इस से आपके क्रेडिट स्कोर पर नकारात्मक प्रभाव पड़ता है।
बार-बार क्रेडिट कार्ड की लिमिट बढ़ाना
आपके क्रेडिट कार्ड पर क्रेडिट लिमिट बढ़ाने के लिए लगातार अनुरोध करने से भी इंक्वायरी की संख्या बढ़ जाती है, जो आपके क्रेडिट स्कोर पर विपरीत प्रभाव डाल सकती है। यह आपके खर्चों के मैनेजमेंट के लिए क्रेडिट पर अधिक निर्भरता को भी दर्शाता है, जिससे पता चलता है कि आप पर लोन का बोझ अधिक है और बैंकों द्वारा इसकी नकारात्मक रूप से व्याख्या की जा सकती है।
क्रेडिट हिस्ट्री की कमी
आपके क्रेडिट स्कोर को कैलकुलेट करने के लिए आपके क्रेडिट बिहेवियर, क्रेडिट यूटिलिटी लिमिट, लोन भुगतान रिकॉर्ड आदि का उपयोग किया जाता है। क्रेडिट हिस्ट्री की अनुपस्थिति आपके क्रेडिट स्कोर पर नकारात्मक प्रभाव डालती है। यदि आपने कभी लोन नहीं लिया है या आपके पास कभी क्रेडिट कार्ड नहीं था, तो बैंक के लिए यह तय करना मुश्किल हो जाता है कि आप कम या अधिक जोखिम की कैटेगरी में आते हैं या नहीं।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

बड़ी खबरें

Amravati Murder Case: उमेश कोल्हे की हत्या का मास्टरमाइंड नागपुर से गिरफ्तार, अब तक 7 आरोपी दबोचे गए, NIA ने भी दर्ज किया केसमोहम्‍मद जुबैर की जमानत याचिका हुई खारिज,दिल्ली की अदालत ने 14 दिनों की न्यायिक हिरासत में भेजाSharad Pawar Controversial Post: अभिनेत्री केतकी चितले ने लगाए गंभीर आरोप, कहा- हिरासत के दौरान मेरे सीने पर मारा गया, छेड़खानी की गईIndian of the World: देवेंद्र फडणवीस की पत्नी अमृता फडणवीस को यूके पार्लियामेंट में मिला यह पुरस्कार, पीएम मोदी को सराहाGujarat Covid: गुजरात में 24 घंटे में मिले कोरोना के 580 नए मरीजयूपी के स्कूलों में हर 3 महीने में होगी परीक्षा, देखे क्या है तैयारीराज्यसभा में 31 फीसदी सांसद दागी, 87 फीसदी करोड़पतिकांग्रेस पार्टी ने जेपी नड्डा को BJP नेता द्वारा राहुल गांधी से जुड़ी वीडियो शेयर करने पर लिखी चिट्ठी, कहा - 'मांगे माफी, वरना करेंगे कानूनी कार्रवाई'
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.