कोरे कागजातों पर हस्ताक्षर कर सेना के सेवानिवृत्त अधिकारी से रुपए वसूले

जयपुर. उपचार के नाम पर कोरे कागजातों पर हस्ताक्षर कर (Crime News Jaipur) सेना के सेवानिवृत्त अधिकारी से रूपए वसूलने का मामला सामने आया है।

By: vinod sharma

Published: 07 Sep 2020, 10:33 AM IST

जयपुर. उपचार के नाम पर कोरे कागजातों पर हस्ताक्षर कर (Crime News Jaipur) सेना के सेवानिवृत्त अधिकारी से रूपए वसूलने का मामला सामने आया है। अधिकारी ने एक निजी हॉस्पीटल के चिकित्सक के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज कराई। प्राथमिकी में सेना में नायक के पद से सेवानृिवत्त मदनलाल की तबीयत गत दिनों खराब हुई थी, जिस पर एक जयपुर के निजी अस्पताल में दिखाया गया। चिकित्सक ने पथरी बताकर अॉपरेशन कराने को कहा। प्राथमिकी में बताया कि चिकित्सक ने कोरे कागजातों पर हस्ताक्षर कराके अॉपरेशन कर दिया, लेकिन अॉपरेशन के बाद उसकी तबीयत अधिक खराब हो गई। आरोप लगाया कि चिकित्सक ने सिर्फ रुपए वसूलने के लिए अॉपरेशन किया। तबीयत लगातार बिगड़ने पर परिजनों ने दूसरे अस्पताल में भर्ती कराया।


निःशुल्क प्रावधान, फिर भी लिए रुपए
प्राथमिकी में बताया कि केन्द्र सरकार के नियमों के अनुसार सेना के सेवानिवृत्त अधिकारी का निःशुल्क रूप से उपचार करने का प्रावधान है, सरकार से इसके बदले पैसा लिया जा सकता है। लेकिन चिकित्सक ने सरकार के नियमों की अवेहलना कर रुपए वसूले। प्राथमिकी में आरोप लगाया कि चिकित्सक ने उतावले पन व सिर्फ रुपए वसूलने के लिए ही उसका अॉपरेशन किया था। झोटवाड़ा थाने के अनुसंधान अधिकारी बजरंगलाल ने बताया कि निजी अस्पताल से कागजात मांगे गए हैं। नियमों के अनुसार कार्रवाई की जाएगी।

मालिक ने नौकर के खिलाफ दर्ज कराई प्राथमिकी
जयपुर. कंपनी के जिस नौकर पर सामान के रख-रखाव की जिम्मेदारी थी, वो ही दगा देकर 13 किलो चांदी ले गया। वारदात कबूलने के बाद भी चांदी नहीं लौटाई तो मालिक ने अपने नौकर के खिलाफ थाने में प्राथमिकी दर्ज करा दी। मनोज पंसारी की गोपीनाथ मार्ग पर स्थित फर्म में विनोद नायक प्रोडेक्शन मैनेजर के पद पर नियुक्त है। नायक के पास कंपनी का हिसाब,कारीगरों से चादी, नगीनों से जेवरात बनवाने की जिम्मेदारी। लेकिन वह एक साल से मालिक को हिसाब नहीं दे रहा। जिस पर मालिक मनोज पंसारी ने सख्ती बरती, तब आरोपी नौकर ने चांदी में हेराफेरी की बात स्वीकार की। उसने बताया कि 13 किलो चांदी में एक मजदूर के साथ हेराफेरी की गई। मालिक ने उसे स्टाम्प पर लिखवाकर चादी लौटाने कीकहकर छोड़ दिया। अब नौकर विनोद नायक चांदी नही लौटा रहा है। फर्म के मालिक ने जालूपुरा थाने में इस मामले में प्राथमिकी दर्ज कराई।


फोन पर भी बात नहीं
प्राथमिकी में बताया कि आरोपी नौकर कुछ दिन से फर्म में नहीं आ रहा था। इस कारण मालिक ने उसके नम्बर पर फोन किया, तब आरोपी की पत्नी से फोन पर बात हुई, जल्द ही बात कराने की बात कही, लेकिन बात नहीं कराई जा रही।

vinod sharma
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned