दही भी बढ़ाता है रोग प्रतिरोधक क्षमता

दही खाने से शरीर की रोग प्रतिरोधक शक्ति बढाने वाली कोशिकाएं सक्रिय होकर शरीर की रक्षा प्रणाली को मजबूती देती है। इससे जीवाणुओंका नाश होता है और संक्रामक रोगोंसे बचा जा सकता है।

दही खाने से पाचन शक्ति मजबूत होने के साथ ही शरीर में खून की कमी और कमजोरी दूर होती है। भूख कम लगने पर भी दही का सेवन कर सकते हैं। दही के सेवन से ऊर्जा तुरंत प्राप्त होती है और भागदौड की वजह से होने वाली थकान तुरंत कम होती है।

गर्मी के मौसम में दही से बनी लस्सी और छाछ का सेवन जरूर करना चाहिए। यह शरीर को अंदर से ठंडा रखते है। पेट की गर्मी को शांत करता है। चावल के साथ भी आप दही मिलाकर खा सकते हैं। इससे पेट स्वस्थ रहता है, दस्त की समस्या नहीं होती है।

विटामिन बी 5, बी 12 जैसे विटामिन की प्रचुर मात्रा दही में होने से दही खून में हिमोग्लोबिन बढ़ाता है और तंत्रिका तंत्र स्वस्थ रहता है। कैल्शियम और विटामिन डी दांत और हड्डियो को मजबूत रखता है। दही के सेवन से पेट भरे रहने का अहसास लंबे समय तक बना रहता है। इसलिये दो भोजन के बीच में दही का सेवन करने से भूख नही लगती। इससे वजन कम करने में मदद मिलती है। दही में प्रचुर मात्रा में प्रोटीन और कॅल्शियम होता है, जो सरलता से शरीर में स्वीकार किया जाता है और शरीर की जरुरत को पूरा करता है।

Chand Sheikh Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned