डाइट में शामिल करें करी पाउडर

रोग-प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाने के लिए करी पाउडर का सेवन करना बेहतरीन विकल्प है

By: Amit Purohit

Published: 19 Mar 2020, 01:56 PM IST

करी पाउडर मसालों का मिश्रण होता है, जो खाने का स्वाद बढ़ाने के साथ ही कई तरह के स्वास्थ्य लाभ भी देता है। करी पाउडर को तैयार करने के लिए हल्दी पाउडर, धनिया पाउडर, जीरे का पाउडर, सौंफ, मिर्च पाउडर, अदरक, काली मिर्च, सरसों के बीज, मेथी, करी पत्तियों को मिलाकर तैयार किया जाता है। खाने बनाते समय यदि नियमित तौर पर इस पाउडर का प्रयोग किया जाए तो इम्यूनिटी बूस्ट होने के साथ ही इंफ्लेमेशन संबंधी बीमारियों से लडऩे की ताकत भी मिलेगी। हार्ट हेल्थ के लिए भी यह पाउडर बहुत लाभकारी होता है। यह ट्राइग्लिसराइड और कोलेस्ट्रोल के लेवल को कम करने का काम करता है। आइए जानते हैं इसके स्वास्थ्य लाभ के बारे में...

एंटी इंफ्लेमेटरी प्रॉपर्टीज
करी पाउडर के सेवन से एंटी इंफ्लेमेटरी लाभ लिए जा सकते हैं। कुछ प्रयोगशाला के अध्ययनों से सामने आया कि करी पाउडर इंफ्लेमेशन से संबंधित बीमारियां जैसे रुमेटॉइड आर्थराइटिस, ओस्टिओऑर्थराइटिस और इंफ्लेमेटरी बाउल डिजीज की आशंका को कम करता है।

हार्ट के लिए अच्छा है यह पाउडर
करी पाउडर मेंं पाए जाने वाले कंपाउंड ब्लड फ्लो को बूस्ट करने का काम करते हैं। इस तरह ब्लड वैसल्स का फंक्शन इंप्रूव होता है और हार्ट डिजीज का खतरा कम हो जाता है। एक स्टडी से सामने आया कि करी पाउडर में हाई एंटी ऑक्सीडेंट्स होते हैं, जो दिल के रोगों को दूर करते हैं।

पावरफुल एंटी ऑक्सीडेंट्स
एंटी ऑक्सीडेंट्स शरीर को फ्री रेडिकल्स से बचाने का काम करते हैं। यह ऑक्सीडेटिव स्ट्रेस की वजह से होने वाली बीमारियां जैसे हार्ट डिजीज, कैंसर की आशंका को कम करता है। एक अध्ययन से सामने आया कि जिन लोगों ने ६ से १२ ग्राम करी पाउडर का सेवन किया उनमें ऑक्सीडेटिव स्टेस कम था।

ब्लड शुगर लेवल
डायबिटीज के मरीजों के लिए भी करी पाउडर फायदेमंद होता है। नियमित रूप से इस पाउडर का सेवन करने से एक महीने में ही ब्लड शुगर को मैनेज किया जा सकता है। इतना ही नहीं, इसमें एंटी बैक्टीरियल और एंटी फंगल प्रोपर्टीज भी होती हैं, जो इम्यूनिटी को बूस्ट करने का काम करती है।

एंटी कैंसर प्रॉपर्टीज
इस पाउडर में एंटी कैंसर प्रॉपर्टीज भी होती हैं। कई तरह के अध्ययनों से सामने आया कि करी पाउडर कैंसर सेल्स से लडऩे में कारगर होता है। एनीमल स्टडी के अनुसार करी पाउडर कई तरह के कैंसर जैसे प्रोस्टेट, ब्रेस्ट, कोलन और ब्रेन कैंसर की आशंका को कम करता है।

Amit Purohit Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned