बदमाशों ने 80 साल के बुजुर्ग को भी नहीं छोड़ा, घबराए पीड़ित के बीपी हुआ हाई, पूरी रात सो नहीं पाया

jaipur crime news : जयपुर के भट्टा बस्ती थाना क्षेत्र का मामला

By: Deepshikha Vashista

Published: 01 Jul 2019, 06:03 PM IST

अविनाश बाकोलिया / जयपुर. मेरी पेंशन के रुपए भी नहीं छोड़े। बदमाशों ने खाते से मेहनत की कमाई को निकाल लिए। जब से रुपए निकले हैं, तब से सो नहीं पा रहा हूं। यह कहना था विद्याधर नगर सेक्टर-8 निवासी 80 वर्षीय राधेश्याम सुमन का। राधेश्याम के खाते में सेंध लगाकर साइबर ठगों ( Cyber thagi ) ने कई दिनों तक रुपए निकालते रहे, लेकिन बैंक की ओर से उनके पास फोन तक नहीं आया। रही-सही कसर बैंक ने पूरी कर दी। पूरे दिन बुजुर्ग बैंकों के चक्कर लगाता रहा, लेकिन किसी ने उसकी नहीं सुनी।

साइबर ठगी का शिकार हुए राधेश्याम सुमन को जब बैंक से भी कोई जवाब नहीं मिला तो आखिर भट्टा बस्ती थाने में जाकर मामला दर्ज करवाया। ठगी के पीड़ित राधेश्याम को जब पता चला कि ठगों ने उसकी पेंशन की रकम निकाल ली है। तो वो डर से इतना घबरा गए कि पूरी रात सो भी नहीं पाए।

 

यह है मामला

राधेश्याम शिक्षा विभाग में हैडमास्टर पद से सेवानिवृत्त हुए हैं। राधेश्याम 29 जून को पासबुक में एंट्री करवाने पहले तो एसबीआइ की रामनगर शाखा गया, वहां से उन्हें विद्याधर नगर भेज दिया। विद्याधर नगर बैंक में एंट्री करवाकर घर लौटा और अपने हिसाब की कॉपी से एंट्री मिलान करने लगा। तभी पीड़ित के पास दस-दस हजार रुपए निकाले जाने के मैसेज आए। यह देख बुजुर्ग घबरा गया। बैंक की एंट्री को ध्यान से देखा तो 19 जून, 22 जून और 24 जून को भी रुपए निकाले गए हैं। बुजुर्ग के खाते से 26610 रुपए ठग निकाल चुके थे।

बुजुर्ग तुरंत बैंक में पता करने पहुंचा, तो वहां किसी ने ढंग से जवाब नहीं दिया। यहां तक कह दिया हम कुछ हीं कर सकते। मारे डर के बुजुर्ग रात भर सो नहीं पाया, बैचेनी हो गई। बिना खाना खाए पूरी रात सोचने में निकाल दी। अगले दिन बुजुर्ग ने भट्टा बस्ती थाने में रिपोर्ट दर्ज करवाई।

 

Deepshikha Vashista
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned