पश्चिमी विक्षोभ ने फिर बिगाड़ा प्रदेश का मौसम, कई जगहों पर बारिश, तेज रफ्तार हवाओं ने फिर कराया ठंड़ का अहसास

बारिश के कारण प्रदेश से विदा हो रही सर्दी एक बार फिर लौट आई है...

By: dinesh

Updated: 02 Mar 2019, 01:52 PM IST

जयपुर। प्रदेश में मौसम ने एक बार फिर से पलटा खाया है। राजस्थान में कई जगहों पर सुबह से ही बारिश हो रही है। राजधानी जयपुर सहित बीकानेर, सीकर, चित्तौडगढ़़ के अलावा कई जिलों से बारिश की खबरे आ रही हैं। बारिश के कारण प्रदेश से विदा हो रही सर्दी एक बार फिर लौट आई है। पश्चिमी राजस्थान में सक्रिय हुए चक्रवाती तंत्र के असर से बीती रात से मौसम ने पलटा खाया और कई इलाकों में मेघगर्जन के साथ बौछारें गिरी। फाल्गुन मास में हो रही बारिश ने सर्दी को एक बार फिर से रोक लिया है।

राजधानी जयपुर में आज सुबह हल्की बौछारों के साथ तेज रफ्तार से चली पुरवाई हवा ने सुबह सर्दी का अहसास कराया। ठंड़ ने लोगों के गर्म कपड़ों को एक बार फिर से बाहर निकलवा दिया। हालांकि प्रदेश में बीते चौबीस घंटे में पश्चिमी इलाकों में दिन और रात के तापमान में बढ़ोतरी दर्ज हुई। आज सुबह राजधानी जयपुर में घने बादल छाए और शहर में छितराई बौछारें गिरी। अलसुबह शहर में सैर पर निकले लोग बारिश के कारण ठिठक गए। वहीं करीब 15 किलोमीटर प्रतिघंटे की रफ्तार से चली पुरवाई हवा के कारण मौसम में ठंडक महसूस हुई। स्थानीय मौसम केंद्र के अनुसार शहर में अगले चौबीस घंटे में मौसम शुष्क रहने व दिन के तापमान में आंशिक गिरावट होने की संभावना है।

 

48 घंटे में प्रदेश के कई हिस्सों में बारिश के संकेत
मौसम वैज्ञानिकों के अनुसार हिमालय तराई क्षेत्र में पश्चिमी विक्षोभ के असर से उत्तर पश्चिमी इलाकों में चक्रवाती तंत्र सक्रिय हो गया है। ऐसे में अगले 48 घंटे में प्रदेश के उत्तरी इलाकों समेत पंजाब, हरियाणा, चंडीगढ़, दिल्ली और उत्तर प्रदेश के पश्चिमी भागों में मध्यम व हल्की बारिश मेघगर्जन के साथ होने की संभावना है।


चित्तौडगढ़़
चित्तौडगढ़़ में शनिवार को मौसम ने पलटा खाया और आसमान में काले बादल छाने के साथ ही बारिश भी हुई। रिमझिम बारिश का दौर जारी है।

बीकानेर
जिले में शनिवार सुबह से रूक-रूक कर बारिश हो रही है। शहर और आस-पास के नाल आदि क्षेत्र में सुबह 9 बजे से रूक-रूक कर बारिश हो रही है। वहीं जिले के अन्य उपखण्ड खाजूवाला, लूणकरनसर, कोलायत, नोखा आदि से बादल छाए होने और हल्की फुहार गिरने के समाचार मिले है। बारिश से खेतों में पकाव पर खड़ी सरसों, गेहूं और चना की फसल को फायदा हुआ है। रबी की फसलें इन दिनों अंतिम सिंचाई की मांग कर रही थी। बारिश होने से फसलों को फायदा हुआ है।

टोडा
क्षेत्र में शनिवार अलसुबह अचानक मौसम में पलटा खाया। आसमान में अलसुबह से बादल छाये। सुबह करीब साढ़े आठ बजे रिमझिम बारिश का दौर शुरू

हनुमानगढ़
हनुमानगढ़ जिले में तेज बारिश से सर्दी बढ़ गई है।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned