मूसलाधार बारिश से इस बांध में आया कटाव, कई गांवों का संपर्क कटा, बिजली के पोल धराशाही

मूसलाधार बारिश से इस बांध में आया कटाव, कई गांवों का संपर्क कटा, बिजली के पोल धराशाही

Dinesh Saini | Publish: Jul, 26 2019 04:00:08 PM (IST) | Updated: Jul, 26 2019 04:05:38 PM (IST) Jaipur, Jaipur, Rajasthan, India

मूसलाधार बारिश से जयपुर में पानी ही पानी हो गया। वहीं जयपुर के बस्सी में नेवर बांध ओवरफ्लो हो गया। कई सालों से पानी के लिए तरस रहा ये बांध भारी बारिश के चलते लबालब होकर ओवरफ्लो हो गया...

जयपुर। राजस्थान में मानसून ( monsoon ) पूरी तरह से सक्रिय हो गया है। कई जिलों में भारी बारिश ( heavy rain ) के चलते बाढ़ जैसे हालात पैदा हो गए है। राजधानी जयपुर में भी लोगों को बरसों बाद ऐसी बारिश देखने को मिली जिसने कई सालों का रिकॉर्ड तोड़ दिया। मूसलाधार बारिश से जयपुर में पानी ही पानी हो गया। वहीं जयपुर के बस्सी में नेवर बांध ओवरफ्लो हो गया। कई सालों से पानी के लिए तरस रहा ये बांध भारी बारिश के चलते लबालब होकर ओवरफ्लो हो गया।

Heavy Rain in Rajasthan

बस्सी में नेवर बांध में 24 साल बाद पानी आया है। लेकिन जब पानी आया तो ऐसा आया कि ओवरफ्लो हो जाने के कारण बांध की पाल क्षतिग्रस्त हो गई। बांध की पाल में कटाव आने से पानी बाहर बह रहा है। जिससे कई गांवों का आने जाने का सम्पर्क टूट गया है। कई बिजली के पोल धराशाही हो गए है। बांध का पानी बाहर आने से लोगों के लिए संकट पैदा हो गया है।

 

 

Heavy Rain in Rajasthan

मौसम विभाग ने 29 जुलाई तक राजस्थान के विभिन्न जिलों में भारी बारिश का अलर्ट जारी किया है। जयपुर जिला प्रशासन ने भी आपदा प्रबंधन और सिविल डिफेंस को अलर्ट कर दिया है। विभाग ने पूर्वी राजस्थान के अजमेर, अलवर, बांसवाड़ा, बारां, भरतपुर, झुंझुनूं, करौली, कोटा, भीलवाड़ा, बूंदी, दौसा, घौलपुर, जयपुर, झालावाड़, सीकर, टोंक, सवाईमाधोपुर, चूरू, हनुमानगढ़, नागौर में 27 जुलाई तक भारी बारिश की चेतावनी दी है। इसमें अजमेर, जयपुर, सीकर, चूरू व नागौर में ऑरेंज अलर्ट जारी किया है। यहां भारी से भी भारी बारिश होने की संभावना है।

 

Read More : सीकर के बाद अब जयपुर में बिगड़े हालात, भारी बारिश ने तोड़ा कई सालों का रिकार्ड, यहां बनी बाढ़ जैसी स्थिति

 


जयपुर में बुधवार को शुरू हुआ बारिश का दौर गुरुवार को दोपहर तक चलता रहा। कुछ घंटों के अंतराल के बाद गुरूवार रात को फिर से बारिश रूक-रूककर चलती रही। शुक्रवार सुबह तो मानों बारिश ने विकराल रूप धारण कर लिया हो और बादलों ने अचानक से झमाझम शुरू कर दी। शुक्रवार सुबह हुई मूसलाधार बारिश से कई जगह सडक़ें धंस गई, वहीं तेज हवाओं के कारण कई जगह पेड़ और बिजली के पोल गिर गए।


सीकर में भारी बारिश ने लोगों की मुश्किलें बढ़ा दी है। पिछले दो दिन से हो रही बारिश का दौर आज भी जारी है। इसी बीच मौसम विभाग ने आज और कल के लिए भारी से भारी बारिश की चेतावनी जारी की है। जिसके बाद स्थानीय प्रशासन पूरी तरह से सतर्क है। जयपुर से आई एसडीआरएफ की टीम राहत बचाव में जुटी हुई है। 16 घंटों की भारी बारिश से सीकर में बरसात के पानी में सडक़े बह गई। पाटन में तेज बारिश से घरा में पानी घुस गया। दो दिन की बारिश के बाद शुक्रवार सुबह से हो रही बारिश के बाद बरसाती नाले उफान पर है। लगातार हो रही बारिश के चलते आज भी स्कूल व कोचिंग संस्थानों में अवकाश घोषित किया गया है। यहां वार्ड न 11 में बाढ़ जैसे हालात बने हुए है।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned