scriptDausa teacher couple anjeer Fig Farming in khanwas | मिलिए अंजीर की खेती की 'मास्टरनी' मीरा मीणा से, इस तकनीक से कम लागत से मिल रही अच्छी आय | Patrika News

मिलिए अंजीर की खेती की 'मास्टरनी' मीरा मीणा से, इस तकनीक से कम लागत से मिल रही अच्छी आय

Anjeer Fig Farming: अध्यापक दंपति ने खेत में जलस्तर नीचे जाने और पानी खारा होने के कारण यह नवाचार किया है। अंजीर पेड़ से आठ माह बाद फल आने लगे।

जयपुर

Published: June 23, 2022 04:44:27 pm

लक्ष्मणसिंह गहलोत@लवाण

दौसा जिले के ग्राम पंचायत खानवास की ढाणी गांवली में अंजीर की खेती हो रही है। पेशे से अध्यापिका मीरा मीणा ने अंजीर की खेती वर्ष 2018 में पचास पौधों से की थी। पति कमलेश मीणा भी अध्यापक है, उनका भी साथ मिला और अच्छी फसल हुई। इससे उन्होंने बड़े स्तर पर खेती करना तय किया। इसके लिए नागपुर से दो हजार पौधे मंगवाए। मीरा ने बताया कि इन पौधों की कीमत करीब पांच लाख रुपए थी। अंजीर के बीज ऑनलाइन मंगवाए। मीरा के अनुसार अंजीर के एक पेड़ पर 15 किलो अंजीर का उत्पादन हुआ है।

Dausa teacher couple anjeer Fig Farming in khanwas

अध्यापक दंपति ने खेत में जलस्तर नीचे जाने और पानी खारा होने के कारण यह नवाचार किया है। मीरा ने बताया कि इस खेती से कम लागत से अच्छी आय मिल रही है। अध्यापन और घर की जिम्मेदारियों के बीच दोनों समय एक-एक घंटे खेती को संभालती हैं। अंजीर पेड़ से आठ माह बाद फल आने लगे। उन्होंने ड्राईफ्रूट बनाकर बेचने पर ध्यान दिया, जिसका मूल्य बारह सौ रूपए प्रति किलो तक मिला। मीरा ने बताया कि डायना किस्म के अंजीर उत्तम क्ववालिटी के हैं। विदेशों में इनकी काफी मांग है। बीज देने वाली कंपनी ही फल खरीद रही है।

स्वास्थ्यवर्धक फल
अंजीर स्वास्थवर्धक और स्वादिष्ट फल है, जिसके फलों का सेवन ताजा और सुखाकर किया जाता है। इसमें विटामिन ए, बी, सी, फाइबर, कैल्शियम पाये जाते हैं। इसके सेवन से स्तन कैंसर, जुकाम, दमा, मधुमेह, अपचन जैसे रोगों में फायदा होता है।

अंजीर की खेती
अंजीर की फसल करने में दोमट मिट्टी की आवश्यकता होती है। इसकी खेती में अच्छी जल निकासी वाली जगह होनी चाहिए। फसल के लिए शुष्क और कम आर्द्र जलवायु को उपयुक्त माना जाता है। इसका पूर्ण विकसित पौधा 50 से 60 वर्षो तक अच्छी पैदावार देता है। इसलिए इसके पौधरोपण से पहले खेत को अच्छी तरह से तैयार कर लेना चाहिए। गड्ढे में पौधों को लगाने से पहले उन्हें गोमूत्र से उपचारित कर लेना चाहिए। जुलाई और अगस्त में पौधरोपण उपयुक्त माना जाता है। एक हेक्टेयर के खेत में तकरीबन 250 अंजीर के पौधों को लगाया जा सकता है।

तुड़ाई में सावधानी बरतें
गर्मी के मौसम में अंजीर के पौधों को अधिक सिंचाई की आवश्यकता होती है। सर्दी में 15 से 20 दिन के अंतराल में सिंचाई करें और बारिश के मौसम में आवश्यकता पड़ने पर ही सिंचाई करनी चाहिए। खरपतवार नियंत्रण का ध्यान जरूर रखें। अंजीर के पौधों में न के बराबर ही रोग देखने को मिलते हैं। फलों की तुड़ाई दस्ताने पहनकर करना चाहिए, क्योंकि इसके पौधे से निकलने वाला रस त्वचा के लिए नुकसानदायक है। अंजीर के एक पौधे से लगभग 20 किलो फल प्राप्त हो जाते हैं।

पौधों को बचाने के लिए देसी जुगाड़
छोटे पौधों को प्लास्टिक की बोतल से ढकते हैं। बोतल के उपर छेद किया जाता है, जिससे पौधे की श्वसन क्रिया बनी रहती है। तापमान के मद्देनजर हरा नेट लगाते हैं। गर्मी में तापमान कम करने के लिए नेट पर भी पानी डालते हैं। सिंचाई के लिए बूंद-बूंद सिंचाई को अपनाया। पौधा खराब होने पर दूसरा पौधा मंगवाकर उसी गड्ढे में लगा दिया जाता है।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

Weather. राजस्थान में आज 18 जिलों में होगी बरसात, येलो अलर्ट जारीसंस्कारी बहू साबित होती हैं इन राशियों की लड़कियां, ससुराल वालों का तुरंत जीत लेती हैं दिलशुक्र ग्रह जल्द मिथुन राशि में करेगा प्रवेश, इन राशि वालों का चमकेगा करियरउदयपुर से निकले कन्हैया के हत्या आरोपी तो प्रशासन ने शहर को दी ये खुश खबरी... झूम उठी झीलों की नगरीजयपुर संभाग के तीन जिलों मे बंद रहेगा इंटरनेट, यहां हुआ शुरूज्योतिष: धन और करियर की हर समस्या को दूर कर सकते हैं रोटी के ये 4 आसान उपायछात्र बनकर कक्षा में बैठ गए कलक्टर, शिक्षक से कहा- अब आप मुझे कोई भी एक विषय पढ़ाइएUdaipur Murder: जयपुर में एक लाख से ज्यादा हिन्दू करेंगे प्रदर्शन, यह रहेगा जुलूस का रूट

बड़ी खबरें

Maharashtra Floor Test: महाराष्ट्र विधानसभा में शिंदे सरकार का शक्ति परीक्षण आज, स्पीकर ने उद्धव खेमे को दिया झटकाहिमाचल प्रदेश के कुल्लू में बड़ा हादसा, सैंज घाटी में गिरी बस, बच्चों समेत 16 लोगों की मौतपीएम मोदी आज जाएंगे आंध्र प्रदेश, अल्लुरी सीताराम राजू की प्रतिमा का करेंगे अनावरणदिल्ली विधानसभा का दो दिवसीय सत्र आज से होगा शुरू, विधायकों की सैलरी समेत कई विधेयकों को मिल सकती है मंजूरीलालू यादव ICU में भर्ती, बेहोशी की हालत में लाए गए थे अस्पताल, कल सीढ़ी से गिरने पर टूटी थी हड्डीपंजाब: मुख्यमंत्री भगवंत मान आज कैबिनेट का करेंगे विस्तार, पांच नए मंत्री लेंगे शपथजम्मू-कश्मीर: अमरनाथ यात्रा के बीच अनंतनाग में आतंकी हमला, आतंकियों ने पुलिसकर्मी को मारी गोलीकोपनहेगन के शॉपिंग मॉल में ताबड़तोड़ फायरिंग, 7 लोगों की मौत, कई घायल
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.