scriptDay-night inspection of Jaipur Ring Road by many experts | जयपुर रिंग रोड : सड़क हादसों को लेकर एमएनआईटी में विशेषज्ञों के साथ गहन मंथन, सामने आई छह कमियां | Patrika News

जयपुर रिंग रोड : सड़क हादसों को लेकर एमएनआईटी में विशेषज्ञों के साथ गहन मंथन, सामने आई छह कमियां

राजधानी में रिंग रोड का कई विशेषज्ञों ने डे-नाइट निरीक्षण किया है। इस रोड के निरीक्षण में इन विशेषज्ञों ने कई कमियां उजागर की है, जिसके कारण सड़क हादसे बढ़ने का खतरा है।

जयपुर

Published: June 17, 2022 04:40:41 pm

अरविंद पालावत

जयपुर। राजधानी में रिंग रोड का कई विशेषज्ञों ने डे-नाइट निरीक्षण किया है। इस रोड के निरीक्षण में इन विशेषज्ञों ने कई कमियां उजागर की है, जिसके कारण सड़क हादसे बढ़ने का खतरा है। दरअसल, इस पूरी कवायद का मकसद हाइवे पर होने वाले एक्सीडेंट को कम करना और उसके लिए तकनीकी अध्ययन करना रहा। ऐसे में अब देखना यह होगा कि आखिर प्रशासन इस सड़क से इन कमियों को कब तक दूर करेगा।

Day-night inspection of Jaipur Ring Road by many experts

बता दें कि विशेषज्ञों ने कई टेक्निकल खामियों को उजागर किया है। इसमें सबसे पहले उन्होंने बताया है कि रिंग रोड पर पेवमेंट मार्किंग उचित स्थानों पर नहीं है। साथ ही जहां पर मार्किंग हैं उनकी भी नाइट रिफलेक्टीविटी काफी कम है। वहीं, रोड साइड क्रेश बेरियर पर नाइट रिफलेक्टिविटी टेप नहीं है और बेरियर्स की हाइट भी नियम से कम है। जिससे सड़क के किनारे से काफी दूर लगे होने के कारण खुद एक्सीडेंट का कारण बन रहे है। साथ ही एस.ओ.एस हेल्पलाइन बॉक्सेस चालू कंडीशन में नहीं है।

विशेषज्ञों ने अपनी रिपोर्ट में बताया कि बिल्टअप एरिया में सुनियोजित मीडियन ओपनिंग न होने के कारण वाहन चालक खासतौर पर दोपहिया वाहन गलत ढंग से रोड क्रॉस कर रहे हैं। जिससे दुर्घटना होने की संभावना काफी बढ़ रही है। वहीं, साइड स्लोप का अनुपात 1:2 होना चाहिए। जबकि रिंग रोड पर फ्लैट स्लोप दिया गया है और कोई स्लोप प्रोटेक्शन भी नहीं दिया गया। जबकि मिडियन पर पौधारोपण उचित ऊंचाई तक ना होने के कारण वह दूसरी तरफ से आते हुए वाहनों के नाइट ग्लेयर को कम करने में कोई भूमिका नहीं निभा रहा है।

15 दिन तक किया गहन अध्ययन और चर्चा
दरअसल, सड़क हादसों को लेकर एमएनआईटी के प्रोफेसर बीएल स्वामी और डॉ अरूण गौड़ के कॉर्डिनेशन में 15 दिन तक सड़क हादसों को लेकर विभिन्न विशेषज्ञों के साथ चर्चा की। इसमें वे सभी कारण सामने आए, जिससे सड़क हादसों में बढ़ोतरी हो रही है। जिस सर्टिफिकेशन कॉर्स में रोड सेफ्टी पर चर्चा हुई वह मिनिस्ट्री ऑफ रोड ट्रांसपोर्ट एंड हाइवेज एंड इंडियन रोड्स कांग्रेस के सहयोग से आयोजित हुआ। इसमें इंजीनियर्स, रिसर्चर एवं कंसलटेंट ने हिस्सा लिया। उन्होंने क्रैश एनालिसिस एंड ब्लैकस्पाट ट्रीटमेंट, इंटरसेक्शन एंड जेक्शन प्लानिंग और रोड साइड फनीर्चर जैसे मुद्दों पर अध्ययन किया।

36 लोगों को बांटा गया 12 समूह में
इस कॉर्स में सरकारी विभागों के साथ ही इंडस्ट्री से जुड़े 36 लोगों ने हिस्सा लिया। इसमें 28 मई से 10 दिन तक विभिन्न विशेषज्ञों ने लेक्चर दिए। इसके बाद 7 जून से 11 जून तक प्रैक्टिकल के तहत इन 36 लोगों को 12 अलग-अलग ग्रुप में बांटा गया। प्रत्येक समूह में तीन लोग शामिल रहे। इन्हें करीब 47 किलोमीटर लंबी रिंग रोड पर दो—दो किलोमीटर का एरिया दिया गया। जिसका उन्होंने गहन अध्ययन किया। बता दें कि इन 36 में से 10 अधिकारी परिवहन विभाग के थे। वहीं, तीन पीडब्ल्यूडी और दो जेडीए के थे। शेष अन्य अलग—अलग कंपनियों से जुड़े अधिकारी थे।

विदेशों से एक्सपर्ट ने दिए रोड सेफ्टी के गुर
एमएनआईटी के डॉ अरूण गौड़ ने बताया कि रोड सेफ्टी आज के समय में बहुत महत्वपूर्ण है। उन्होंने कहा कि इस 15 दिवसीय कॉर्स में अलग-अलग क्षेत्र के विशेषज्ञ रोड सेफ्टी के टिप्स देते हैं। इसमें केवल भारत ही नहीं बल्कि विदेशों से भी एक्सपर्ट लेक्चर देते है। इस 15 दिवसीय कॉर्स में आॅस्ट्रेलिया, कतर जैसे देशों के रोड सेफ्टी एक्सपर्ट ने भी टिप्स दिए।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

Monsoon Alert : राजस्थान के आधे जिलों में कमजोर पड़ेगा मानसून, दो संभागों में ही भारी बारिश का अलर्टमुस्कुराए बांध: प्रदेश के बांधों में पानी की आवक जारी, बीसलपुर बांध के जलस्तर में छह सेंटीमीटर की हुई बढ़ोतरीराजस्थान में राशन की दुकानों पर अब गार्ड सिस्टम, मिलेगी ये सुविधाधन दायक मानी जाती हैं ये 5 अंगूठियां, लेकिन इस तरह से पहनने पर हो सकता है नुकसानस्वप्न शास्त्र: सपने में खुद को बार-बार ऊंचाई से गिरते देखना नहीं है बेवजह, जानें क्या है इसका मतलबराखी पर बेटियों को तोहफे में देना चाहता था भाई, बेटे की लालसा में दूसरे का बच्चा चुरा एक पिता बना किडनैपरबंटी-बबली ने मकान मालिक को लगाई 8 लाख रुपए की चपत, बलात्कार के केस में फंसाने की दी थी धमकीराजस्थान में ईडी की एन्ट्री, शेयर ब्रोकर को किया गिरफ्तार, पैसे लगाए बिना करोड़ों की दौलत

बड़ी खबरें

किडनैंपिग के आरोपी हैं बिहार के कानून मंत्री कार्तिकेय सिंह, सरेंडर वाले दिन ही ली शपथ, नीतीश बोले-मुझे जानकारी नहींदिल्ली सीएम अरविंद केजरीवाल ने लॉन्च किया ‘मेक इंडिया नंबर-1’ कैंपेन, पूछा - आजादी के 75 वर्ष बाद भी हम बाकी देशों से पीछे क्यों?सुप्रीम कोर्ट ने 'रेवड़ी कल्चर' के खिलाफ सभी पक्षों से मांगे सुझाव, 22 अगस्त तक दिया वक्तशिवमोगा तनाव पर कर्नाटक BJP नेता केएस ईश्वरप्पा का विवादित बयान- मुस्लिम यहां शांति से रहे या पाकिस्तान चले जाएंकेरल कोर्टः यौन उत्पीड़न की शिकायत पहली नजर में नहीं टिकेगी, जब महिला ने 'यौन उत्तेजक' पोशाक पहनी होTrain Accident: महाराष्ट्र के गोंदिया में रेल हादसा, पैसेंजर ट्रेन ने मालगाड़ी को मारी टक्कर; दो यात्री घायलमहागठबंधन सरकार बनने के बाद आज पटना में नीतीश कुमार से मिलेंगे राजद सुप्रीमो लालू यादव, इन मुद्दों पर होगी बातElon Musk News : ट्विटर से डील रद्द करने वाले एलन ने अब Twitter पर ही किया एक और कंपनी खरीदने का ऐलान और फिर मारी पलटी!
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.