निर्णय के लिए सकारात्मकता पर दें ध्यान

पूर्व की सफलताओं पर ध्यान केंद्रित कर फैसले को बेहतर बना सकते हैं।

By: Kiran Kaur

Published: 03 Feb 2021, 11:21 AM IST

यूसी बर्कली (कैलिफोर्निया) यूनिवर्सिटी में हुए शोध के अनुसार एंजाइटी और डिप्रेशन के साथ तमाम परेशानियों के बीच व्यक्ति विशेष के लिए बेहतर निर्णय लेना संभव नहीं। लेकिन पूर्व की सफलताओं पर ध्यान केंद्रित कर फैसले को बेहतर बना सकते हैं।
कोरोना का दौर: शोधकर्ताओं द्वारा 300 वयस्कों पर किए गए इस अध्ययन का निष्कर्ष विशेष रूप से कोरोना महामारी के दौरान प्रासंगिक हैं, जब बीमारी से बचने के लिए दैनिक आधार पर महत्वपूर्ण निर्णय लिए जाने चाहिए।
पूर्व के कार्य: विशेषज्ञों ने यह पाया कि किसी प्रकार का निर्णय लेने में लोग अवचेतन रूप से अपने पिछले कार्यों के सकारात्मक या नकारात्मक परिणामों पर भरोसा करते हैं।
व्यक्तिगत उपचार: शोध के विशेषज्ञों का मानना है कि व्यक्तिगत उपचार के बाद चिंता और अवसाद से ग्रस्त लोगों के निर्णय लेने के कौशल और आत्मविश्वास दोनों को बेहतर बनाया जा सकता है।
क्षमताओं को पहचानें: पूर्व की सफलताएं भी आपके लिए प्रेरणा का माध्यम हो सकती हैं। बदलते दौर में परेशान होने की बजाय अपनी क्षमताओं को पहचानते हुए समस्याओं को दूर करने का प्रयास करें। जीवन में सफलता के लिए यह जरूरी है।

Kiran Kaur Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned