Delhi Pollution : चुनावी मुद्दा बनेगा वायु प्रदूषण

Delhi Pollution : आम आदमी पार्टी (आप) (AAP) दिल्ली सरकार के पांच साल के काम को लेकर जनता के बीच जाने की तैयारी में है। इन उपलब्धियों में शिक्षा और स्वास्थ्य जैसे मुद्दे भी शामिल हैं। भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) (BJP) और कांग्रेस (INC) को उम्मीद है कि दिल्ली में हवा की गुणवत्ता तेजी से बिगडऩे यानी वायु प्रदूषण का मुद्दा उन्हें सत्ता तक पहुंचा सकता है।

चुनावी मुद्दा बनेगा वायु प्रदूषण

आम आदमी पार्टी (आप) दिल्ली सरकार के पांच साल के काम को लेकर जनता के बीच जाने की तैयारी में है। इन उपलब्धियों में शिक्षा और स्वास्थ्य जैसे मुद्दे भी शामिल हैं। भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) और कांग्रेस को उम्मीद है कि दिल्ली में हवा की गुणवत्ता तेजी से बिगडऩे यानी वायु प्रदूषण का मुद्दा उन्हें सत्ता तक पहुंचा सकता है।
दिवाली के बाद शहर में वायु प्रदूषण काफी बढ़ गया है। वातावरण जहरीला हो चुका है। पर्यावरण प्रदूषण (रोकथाम और नियंत्रण) प्राधिकरण (ईपीसीए) दिल्ली-एनसीआर में पब्लिक हेल्थ इमरजेंसी घोषित कर चुका है। इसने एडवाइजरी जारी कर कहा कि लोग खास तौर पर बच्चे और वृद्ध लोग जरूरी काम होने पर ही घरों से बाहर निकलें। आप सरकार ने एक ओर जहां हवा जहरीली होने के लिए पड़ोसी राज्यों में पराली जलाए जाने को जिम्मेदार ठहराया है, वहीं विपक्ष ने सत्तारूढ़ दल पर वायु प्रदूषण को नियंत्रित करने के लिए ठोस कदम न उठाने का आरोप लगाया है। कांग्रेस पार्टी की दिल्ली इकाई लोगों को वायु प्रदूषण पर नियंत्रण के लिए 15 साल के कार्यकाल वाली पिछली शीला दीक्षित के नेतृत्व वाली सरकार द्वारा उठाए गए कदमों की याद दिला रही है। भाजपा ने भी प्रदूषण को लेकर आप पर निशाना साधा है।

hanuman galwa
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned