कॅरियर एडवांसमेंट स्कीम का लाभ देने की मांग

राजस्थान विश्वविद्यालय एवं महाविद्यालय शिक्षक संघ (राष्ट्रीय) ने महाविद्यालय शिक्षा के सहायक आचार्यों को वरिष्ठ, चयनित वेतनमान व सह-आचार्य पद के वेतनमान देने हेतु स्क्रीनिंग प्रक्रिया शीघ्र पूरी करने की मांग की है

By: Ashish

Updated: 22 Jun 2020, 07:07 PM IST

जयपुर

Rajasthan University and College Teachers Association (National) : राजस्थान विश्वविद्यालय एवं महाविद्यालय शिक्षक संघ (राष्ट्रीय) ने महाविद्यालय शिक्षा के सहायक आचार्यों को वरिष्ठ, चयनित वेतनमान व सह-आचार्य पद के वेतनमान देने हेतु स्क्रीनिंग प्रक्रिया शीघ्र पूरी करने की मांग की है। प्रदेश अध्यक्ष डॉ. दिग्विजय सिंह शेखावत ने बताया कि फरवरी 2018 में महाविद्यालय शिक्षकों का पदनाम व्याख्याता के स्थान पर सहायक आचार्य, सह आचार्य व आचार्य करने हेतु नए नियम बनाए गए थे। उसके बाद से लगभग ढाई वर्ष बीत जाने के बाद भी पात्र महाविद्यालय शिक्षकों को कॅरियर एडवांसमेंट योजना का लाभ देने की प्रक्रिया शुरू नहीं की गई है।
प्रदेश महामंत्री डॉ. नारायण लाल गुप्ता ने बताया कि पात्र 325 महाविद्यालय शिक्षकों के आवेदन पत्र तो मंगवा लिए गए लेकिन उन्हें वरिष्ठ, चयनित वेतनमान और सह आचार्य पद का वेतनमान देने के लिए संवीक्षा समिति की बैठक आयोजित नहीं करवाई गई है। फरवरी 2018 के करियर एडवांसमेंट योजना के अंतर्गत पदोन्नति के पात्र शिक्षकों के तो आवेदन पत्र भी अभी तक नहीं मंगाए गए हैं। रुक्टा (राष्ट्रीय) ने इस संबंध में उच्च शिक्षा मंत्री, शासन सचिव व कॉलेज शिक्षा आयुक्त को ज्ञापन भेजकर अविलंब कार्रवाई करने की मांग की है।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned