scriptDengue havoc, not malaria, 500 cases in four months in the state | मलेरिया का नहीं डेंगू का कहर..........प्रदेश में चार माह में ही 500 मामले | Patrika News

मलेरिया का नहीं डेंगू का कहर..........प्रदेश में चार माह में ही 500 मामले

  • मच्छरों के काटने से होती है बीमारी
  • इस साल मलेरिया के 15 मामले आए सामने

जयपुर

Updated: April 25, 2022 12:30:24 pm

जयपुर
आज विश्व मलेरिया दिवस है। पिछले साल डेंगू और मलेरिया ने भी कोरोना के साथ साथ लोगों की कमर तोड़ी थी। इस बार भी मच्छर के काटने से होने वाली बीमारियों में डेंगू ने राजस्थान में चार माह में ही करीब 500 लोगों को अपना शिकार बनाया है। एक बार फिर प्रदेश में डेंगू ने कहर बरपा रखा है और लोगों की कमर तोड़ रहा है। हालांकि अच्छी बात यह है कि डेंगू से एक भी मौत इस साल नहीं हुई है। लेकिन पूरे प्रदेश में हर माह करीब 125 लोग डेंगू के रोग के शिकार हो रहे है।

dengue2.jpg

जयपुर अलवर में सबसे ज्यादा डेंगू के मरीज
प्रदेश में 4 माह में डेंगू के 500 नए मरीज सामने आए है। 1 जनवरी 2022 से लेकर अप्रेल माह के अंत तक प्रदेश के अलग अलग अस्पतालों यह मरीज भर्ती हुए है। वहीं मलेरिया के 15 मामले ही अब तक सामने आए है।डेंगू के सबसे ज्यादा 165 मामले जयपुर में,अलवर में 45,भरतपुर में 28,दौसा में 27,उदयपुर में 26 और करौली में 24 मामले डेंगू के देखने को मिले है।

बांसवाड़ा,पाली,जालोर,श्रीगंगानगर और सिरोही ऐसे जिले है जहां डेंगू का एक भी मामला सामने नहीं आया है। गत वर्ष 2021 में भी डेंगू के 13 हजार से अधिक की संख्या में केस सामने आए थे और करीब 10 लोगों की मौत इस बीमारी से हुई थी।

मच्छर के काटने से होते है रोग
स्वास्थ्य विभाग की माने तो मलेरिया और डेंगू दोनों ही रोग मच्छर के काटने से होते है। मलेरिया मादा एनोलीज जाति के मच्‍छरों के काटने से फैलता है।मलेरिया के रोगी को काटने पर असंक्रमित मादा एनोलीज मच्‍छर रोगी के खून के साथ मलेरिया परजीवी को भी चूंस लेते है।

मादा एनोलीज मच्‍छर भी संक्रमित होकर मलेरिया फैलाने में सक्षम होते है तथा जितने भी स्‍वस्‍थ्‍य मनुष्‍यो को काटते है। उन्‍हे मलेरिया हो जाता है। इस तरह एक मलेरिया रोगी से यह रोग कई स्‍वस्‍थ्‍य मनुष्‍य में फैलता है। वहीं डेंगू मच्‍छर वर्षा ऋतु के दौरान बहुतायत से पाए जाते हैं। इनके शरीर पर सफेद और काली पट्टी होती है इसलिए इनको टाइगर(चीता मच्‍छर) भी कहते है। यह मच्‍छर ज्‍यादातर दिन के समय ही काटता है। डेंगू विषाणु से होने वाली बीमारी है जो एडीज एजिप्‍टी नामक संक्रमित मादा मच्‍छर के काटने से फैलती है। डेंगू एक तरह का वायरल बुखार है।

स्वच्छता ही बचाव है
एसएमएस अस्पताल के मेडिसिन विशेषज्ञ डॉ.मनोज शर्मा का कहना है कि डेंगू मच्छर घर में ना पनपे। अगर किसी भी घर में एक भी डेंगू मरीज का मामला सामने आए तो तुरंत पूरे घर में साफ सफाई करनी चाहिए। ताकि कोई और सदस्य इसका शिकार ना हो पाए।

वहीं उप जिला चिकित्सालय बस्सी के मेडिसिन विशेषज्ञ डॉ. जैनेन्द्र कुमार शर्मा ने कहा कि मलेरिया व डेंगू से बचाव के लिए स्वच्छता जरूरी है। किसी भी तरह के बुखार के लक्ष्ण आने पर तुरंत डॉक्टर को दिखाकर खून की जांच करवाए। मच्छरों से बचाव और गंदा पानी एकत्रित होने से रोककर इस बीमारी से बचा जा सकता है। सभी अस्पतालों में मलेरिया बुखार की जांच और उपचार की सुविधा है।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

नाम ज्योतिष: ससुराल वालों के लिए बेहद लकी साबित होती हैं इन अक्षर के नाम वाली लड़कियांभारतीय WWE स्टार Veer Mahaan मार खाने के बाद बौखलाए, कहा- 'शेर क्या करेगा किसी को नहीं पता'ज्योतिष अनुसार रोज सुबह इन 5 कार्यों को करने से धन की देवी मां लक्ष्मी होती हैं प्रसन्नइन राशि वालों पर देवी-देवताओं की मानी जाती है विशेष कृपा, भाग्य का भरपूर मिलता है साथअगर ठान लें तो धन कुबेर बन सकते हैं इन नाम के लोग, जानें क्या कहती है ज्योतिषIron and steel market: लोहा इस्पात बाजार में फिर से गिरावट शुरू5 बल्लेबाज जिन्होंने इंटरनेशनल क्रिकेट में 1 ओवर में 6 चौके जड़ेनोट गिनने में लगीं कई मशीनें..नोट ढ़ोते-ढ़ोते छूटे पुलिस के पसीने, जानिए कहां मिला नोटों का ढेर

बड़ी खबरें

Gyanvapi Masjid Case: ज्ञानवापी में शिवलिंग के दावे के बीच आज सुप्रीम कोर्ट में होगी सुनवाई, वाराणसी सिविल कोर्ट में 23 मई कोExclusive: ज्ञानवापी सर्वे रिपोर्ट से मंदिर-मस्जिद के सबूतों का नया अध्याय, जानें क्या है इन सर्वे रिपोर्ट मेंGood News: AIIMS दिल्ली में अब 300 रुपए तक के टेस्ट होंगे मुफ्तIPL 2022, RCB vs GT: Virat Kohli का तूफान, RCB ने जीता मुकाबला, प्लेऑफ की उम्मीदों को लगे पंखBRICS Summit: ब्रिक्स देशों के शिखर सम्मेलन में शामिल हुए भारत के विदेश मंत्री जयशंकर ने उठाया आतंकवाद का मुद्दाअफगानिस्तान में तालिबान का नया फरमान- महिला टीवी एंकर चेहरा ढककर पढ़ें खबरअमेरिकी राष्ट्रपति Biden के लिए महाराष्ट्र और आंध्र से गिफ्ट में जाएंगे आमसीएम मान ने अमित शाह से मुलाकात के बाद कहा-पंजाब में तैनात होंगे 2,000 और सुरक्षाकर्मी
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.