आज से शुभ कार्यों पर ब्रेक... 4 माह के लिए सो जाएंगे देव

chandra shekar pareek

Publish: Jul, 12 2019 02:21:54 AM (IST)

Jaipur, Jaipur, Rajasthan, India

आज से चार माह तक शुभ और मांगलिक कार्यों पर विराम लगने जा रहा है, लेकिन इस दौरान भजन, कीर्तन, कथा, प्रवचन व भक्ति भावना अपने चरम पर होगी। आषाढ़ शुक्ल एकादशी पर आज देवशयनी एकादशी है।
चार महीने बाद होंगे शादी-ब्याह
इसके साथ ही चार माह के लिए मांगलिक कार्यों पर विराम लग जाएगा। शादी-ब्याह सहित अन्य मांगलिक कार्य अब चार माह बाद ही हो सकेंगे। वहीं, मंदिरों में शयन आरती के बाद शालिग्रामजी को वेदमंत्रों और पदगायनों के साथ शयन करवाया जाएगा।
गोविंददेवजी में शालिग्राम का विशेष पूजन
गोविंददेवजी मंदिर में ग्वाल झांकी के बाद शाम 6 बजे सालिगरामजी को रथ पर विराजमान कर मंदिर के दक्षिण-पश्चिमी कोने पर स्थित तुलसी मंच पर लाकर विराजमान किया जाएगा। यहां उनका पंचामृत अभिषेक और पूजन कर आरती की जाएगी।
मंदिर प्रवक्ता मानस गोस्वामी ने बताया कि गोविंददेवजी मंदिर के महंत अंजन कुमार गोस्वामी तुलसी महारानी का पूजन करेंगे। इसके बाद सालिगरामजी और तुलसी महारानीजी की चार परिक्रमा कर सालिगरामजी को चौकी पर विराजमान कर मंदिर की एक परिक्रमा करा कर वापस गर्भ गृह में विराजमान किया जाएगा। इसके बाद संध्या आरती के दर्शन होंगे। ठाकुरजी नटवर वेश पोशाक धारण करेंगे तथा फूल बंगला झांकी सजाई जाएगी।
चार माह तक शयन करेंगे ठाकुरजी
गलता तीर्थ में पीठाधीश्वर अवधेशाचार्य महाराज के सान्निध्य में देवशयनी एकादशी पर विभिन्न आयोजन होंगे। बड़ी चौपड़ स्थित लक्ष्मीनारायण बाईजी मंदिर में महंत पुरुषोत्तम भारती के सान्निध्य में शयन आरती के बाद सालिगरामजी को वेदमंत्रों के साथ मखमली आसन पर शयन कराया जाएगा। ठाकुरजी 4 माह तक शयन करेंगे।
सरस बिहारी जू की पुष्प शैय्या
पानों का दरीबा स्थित सरस निकुंज में शुक संप्रदाय पीठाधीश्वर अलबेली माधुरी शरण महाराज के सान्निध्य में देवशयनी एकादशी पर ठाकुर राधा सरस बिहारी जू सरकार को पुष्प शैय्या पर शयन करवाया जाएगा। शयन से पहले पदगायन होगा।
8 नवंबर को उठेंगे देव
ज्योतिषाचार्य पुरुषोत्तम गौड़ ने बताया कि देवशयन के दौरान मांगलिक कार्यों पर विराम रहेगा। शादी- विवाह, गृह प्रवेश सहित सभी तरह के शुभ कार्य वर्जित रहेंगे। इसके बाद कार्तिक शुक्ल एकादशी पर 8 नवंबर को देव उठेंगे। इसके साथ ही फिर से मांगलिक कार्य शुरू होंगे। देवउठनी एकादशी का पहला अबूझ मुहूर्त आएगा।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned