डाइटिंग के दौरान भूलकर भी ना करें ये गलती

शोध में हुआ खुलासा, खुद पर कड़ा नियंत्रण रख बच सकते हैं इससे

अगर आप डाइटिंग कर रहे हैं तो आपको बता दें कि इसका सबसे कठिन हिस्सा डाइटिंग ही है। अक्सर डाइटिंग करने वालों को ज्यादा फूड क्रेविंग महसूस होती है और इस दौरान आप सिर्फ जंक फूड के बारे में सोचते हैं। अगर इस क्रेविंग को शांत करने के लिए आप जंक फूड का सेवन करते हैं तो आपका वजन बढऩे के अवसर बढ़ जाते हैं। टेक्सस के गाल्वेस्टोन स्थित टेक्सस मेडिकल ब्रांच यूनिवर्सिटी के डिपार्टमेंट ऑफ फार्माकॉलोजी व टॉक्सिकोलॉजी के सहायक प्रोफेसर जोनाथन होमल की रिसर्च के अनुसार हम वजन घटाने के लिए डाइटिंग का संकल्प तो कर लेते हैं, लेकिन कुछ समय बाद ही हमें जंक फूड की क्रेविंग होने लगती है जो शुगरी और वसायुक्त होते हैं। अगर ऐसे में हम अपनी क्रेविंग को शांत करने के लिए जंक फूड का सेवन कर लेते हैं तो यह दुगुना नुकसान करता है।

ओवरइटिंग के लिए होते हैं प्रेरित
प्रोफेसर जोनाथन के अनुसार जब लोग वजन कम करने की कोशिश करते हैं तो वसायुक्त भोजन से बचने का प्रयास करते हैं, लेकिन विडंबना यही है कि इस दौरान जंक फूड खाने के लिए लालसा बढ़ जाती है और इससे ओवरइटिंग के अवसर काफी बढ़ जाते हैं। अगर लम्बे समय तक अगर आप वसायुक्त भोजन से परहेज करते हैं, तो क्रेविंग ज्यादा होती है।

क्रेविंग पर लगा सकते हैं अंकुश
हाल में हुई एक रिसर्च के अनुसार शोधकर्ताओं ने मस्तिष्क में एक ऐसे सर्किट की पहचान की है जो जंक फूड के लिए होने वाली क्रेविंग पर अंकुश लगाने में सक्षम है। शोधकर्ताओं ने चूहों पर यह रिसर्च किया, जिसके तहत उन्हें एक महीने तक कम वसायुक्त भोजन दिया गया, इससे उनके व्यवहार में बदलाव आया और उन्होंने बाद में दिया गया वसायुक्त भोजन नहीं किया। इस शोध में यह भी पता चला है कि अगर हम किसी भी चीज को नकारते हैं तो बाद में उसके लिए लालसा बढ़ जाती है।

Mridula Sharma Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned