दिव्यांगों में भी भेदभाव, इन्होंने लिखा प्रधानमंत्री को पत्र

दिव्यांगों में भी भेदभाव, इन्होंने लिखा प्रधानमंत्री को पत्र

By: Rakhi Hajela

Updated: 18 Apr 2020, 05:04 PM IST


दिव्यांग अधिकार महासंघ के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष हेमंत भाई गोयल ने प्रधानमंत्री और केंद्रीय सामाजिक न्याय और अधिकारिता मंत्री को पत्र लिखा है। इस पत्र के माध्यम से गोयल ने देश के सभी बैंचमार्क दिव्यांग पेंशनर को अतिरिक्त पेंशन के रूप में एक हजार रुपए की आर्थिक मदद देने का अनुरोध किया है। उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार ने हाल ही में 80 फीसदी अथवा इससे अधिक दिव्यागंता वाले दिव्यांग जनों को ही एक हजार रुपए की आर्थिक मदद दी है जिससे दिव्यांग जनों में रोष व्याप्त है। उनका कहना है कि रोजी रोटी का संकट सभी दिव्यांगजनों के समक्ष है। दिव्यांग अधिकार अधिनियम 2016 की धारा 24 की उपधारा 3ग के प्रावधानों के मुताबिक प्राकृतिक या मानव निर्मित आपदा और संघर्ष के क्षेत्र में उसके दौरान सहायता का उल्लेख है जिसमें चालीस प्रतिशत अथवा इससे अधिक दिव्यागंता वाले दिव्यांग जनों को सहायता प्रदान की जानी चाहिए। आपको बता दें कि हेमंत भाई गोयल लंबे समय से राजधानी जयपुर में दिव्यांगजनों के हितों के लिए संघर्षरत हैं।
उनका कहना है कि दिव्यांगों पहले से ही समाज में खुद को अलग थलग महसूस करते हैं इस पर इस माहमारी के समय केंद्र और राज्य सूची के आधार पर आर्थिक सहायता में भी भेदभाव हो रहा है। आपको बता दें कि दरअसल कोरोना संक्रमण के समय मदद के तौर पर केंद्र सरकार ने दिव्यांगों को एक हजार रुपए आर्थिक सहायता देने का फैसला किया है। यह राशि केवल केंद्रीय सूची में दर्ज दिव्यांगों को ही मिलेगी। राज्य सूची में दर्ज करीबन तीन लाख दिव्यांगों को यह राशि नहीं मिलेगी। केंद्र सरकार की और से तय मापदंडों को पूरा करने वाले करीबन 28 हजार दिव्यांग है। इन दिव्यांगों को केंद्र सरकार की ओर से मासिक पेंशन सहित दूसरे लाभ दिए जाते हैं वहीं राज्य सरकार की सूची में करीबन तीन लाख दिव्यांग हैं जिनको राज्य सरकार की ओर से पेंशन एवं अन्य लाभ दिए जाते हैं। केंद्रीय सामाजिक न्याय एवं अधिकारिकता विभाग ने कोरोना माहमारी के समय आर्थिक सहायता के तौर पर दिव्यांगों को एक हजार रुपए आर्थिक मदद देने का फैसला किया है। पांच सौ पांच सौ रुपए की दो किश्तों में यह राशि दिव्यांगों को दी जा रही है। यह राशि केवल केंद्र सूची के दिव्यांगों को दी जा रही है। इस वजह से राज्य सूची में दर्ज दिव्यांगों को राशि नहीं मिलने से दिव्यांग सरकार के अधिकारियों के पास चक्कर लगा रहे हैं। दिव्यांग अधिकार महासंघ के राष्ट्रीय अध्यक्ष हेमंत भाई गोयल ने इस संबंध में केंद्र और राज्य सरकार को पत्र लिखकर सभी दिव्यांगों को एक समान आर्थिक सहायता राशि देने की मांग की है।

Rakhi Hajela Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned