स्कूलों में 29 अक्टूबर से 7 नवंबर तक होगी दीवाली की छुट्टियां

Diwali holidays in schools - प्रदेश के स्कूलों में दीवाली की छुट्टियां 29 अक्टूबर से 7 नवंबर तक होंगी। वहीं शैक्षिक सम्मेलनों का आयोजन भी जिला प्रशासन की अनुमति के बाद प्रस्तावित शिविरा पंचांग के मुताबिक करवाया जा सकेगा। शिक्षामंत्री गोविंद सिंह डोटासरा ने ट्विट कर यह जानकारी दी है साथ ही विभाग की ओर से संशोधित आदेश भी जारी करवा दिए गए हैं।

By: Rakhi Hajela

Published: 13 Oct 2021, 07:03 PM IST


शिक्षा मंत्री गोविंद सिंह डोटासरा ने दी जानकारी
शिक्षामंत्री ने किया ट्वीट
शिक्षक संगठनों के विरोध में बाद लिया निर्णय
संस्था प्रधान को भी दिया दो दिन अवकाश घोषित करने का अधिकार
जिला प्रशासन की अनुमति से करवाए जा सकेंगे शैक्षिक सम्मेलन
जयपुर।
प्रदेश के स्कूलों में दीवाली की छुट्टियां 29 अक्टूबर से 7 नवंबर तक होंगी। वहीं शैक्षिक सम्मेलनों का आयोजन भी जिला प्रशासन की अनुमति के बाद प्रस्तावित शिविरा पंचांग के मुताबिक करवाया जा सकेगा। शिक्षामंत्री गोविंद सिंह डोटासरा ने ट्विट कर यह जानकारी दी है साथ ही विभाग की ओर से संशोधित आदेश भी जारी करवा दिए गए हैं।
शिक्षामंत्री ने ट्विट किया कि शिक्षा निदेशालय की ओर से 12 अक्टूबर को जारी किए गए आदेश को संशोधित किया गया है और स्कूलों में मध्यावधिक अवकाश अब 29 अक्टूबर से 7 नवंबर तक रहेगा। इसके साथ ही यह भी जानकारी दी कि शिविरा पंचांग में दिए गए अवकाशों के अतिरिक्त संस्था प्रधान सत्र में दो दिन का अवकाश घोषित कर सकते हैं। इनें से एक अवकाश मध्यावधि अवकाश से पहले और दूसरा बाद में किया जा सकेगा। शैक्षिक सम्मेलनों का आयोजन कोविड गाइडलाइन के तहत जिला प्रशासन की अनुमति के बाद जारी होने वाले शिविरा पंचांग के अनुसार किए जा सकेंगे।
गौरतलब है कि माध्यमिक शिक्षा निदेशक ने 12 अक्टूबर को एक आदेश जारी कर स्कूलों के मध्यावधि अवकाश रद्द करते हुए दीवाली पर केवल तीन दिन की छुट्टियों के निर्देश जारी किए थे। उन्होंने शैक्षिक सम्मेलन के आयोजन पर भी रोक लगा दी थी साथ ही निर्देश दिए थे प्रिंसिपल पावर की दो दिन की छुट्टियां भी नहीं होंगी।

यह भी पढ़ेः इस बार बच्चों को दीवाली पर नहीं मिलेगी दस दिन की लंबी छुट्टी


शिक्षक संगठनों किया था तीव्र विरोध
निदेशालय की ओर से आदेश जारी होते ही विभिन्न शिक्षक संगठनों ने इन आदेशों का विरोध करना शुरू कर दिया था। उनका कहना था कि यदि आदेशों को निरस्त नहीं किया गया तो वह पूरे प्रदेश में आंदोलन करेंगे। जोधपुर सहित कई स्थानों पर रविवार को भी शिक्षकों ने इसके विरोध में प्रदर्शन किया था।

Rakhi Hajela Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned