जयपुर में 550 में से 160 हूपर चालक हड़ताल पर, चार दिन से 23 फीसदी शहर से नहीं उठा कचरा

अप्रेल महीने का भुगतान अब तक नहीं मिलने को लेकर हड़ताल पर गए हूपर चालक, सिविल लाइंस व मानसरोवर जोन के 20 से अधिक वार्डों में चार दिन से परेशानी

By: pushpendra shekhawat

Published: 19 May 2020, 06:29 PM IST

जया गुप्ता / जयपुर। कोरोना संक्रमण के दौर में जहां एक तरफ साफ-सफाई पर विशेष दौर दिया जा रहा है, वहीं दूसरी तरफ शहर के 23 फीसदी घरों से पिछले चार दिनों से कचरा नहीं उठ रहा है। दरअसल, शहर से कचरा उठाने वाले 550 हूपर्स में से 160 के चालक हड़ताल पर गए हुए हैं। केवल 390 हूपर ही घरों से कचरा एकत्र कर रहे हैं। सबसे ज्यादा परेशानी मानसरोवर व सिविल लाइंस जोन में बनी हुई है। इन दोनों जोनों के करीब 20 से अधिक वार्डों में पिछले चार दिनों से कचरा नहीं उठा है। अब स्थिति यह है कि घरों व सड़क पर कचरे के ढेर लग गए हैं। कचरा सडऩे के कारण बदबू फैल रही है।

भुगतान नहीं मिलने के कारण हड़ताल पर गए कर्मचारी
जानकारी के अनुसार अप्रेल महीने का भुगतान अब तक नहीं मिलने के कारण हूपर चालक हड़ताल पर गए हैं। हालांकि, प्रोजेक्ट से जुड़े अधिकारियों की कहना है कि अब मामला सुलझ गया है। कल से व्यवस्था सामान्य हो जाएगी।

सड़क पर यूं लगा कचरे का ढेर
चार दिन से हूपर नहीं आने के कारण महेशनगर, सूर्य नगर, सोडाला और रामनगर सहित आस पास के इलाकों में घरों से कचरा नहीं उठा है। महेश नगर निवासियों का कहना है कि पहले तो हूपर गाड़ी रोज आती थी, अब पिछले बीस दिनों से दो दिन में एक बार ही कचरा गाडिय़ां आ रही है। सूर्य नगर निवासी केसी तिवारी ने बताया कि हूपर नहीं आने के कारण कॉलोनी के खाली प्लॉट में कचरा फेंकने को मजबूर हैं। इससे कॉलोनी में गंदगी बढ़ रही है।

- कुछ हूपर चालक हड़ताल पर चले गए थे। अब मामला सुलझ गया है। कल से व्यवस्था नियमित हो जाएगी।
- बन्ने सिंह मीणा, अधिशासी अभियंता, प्रोजेक्ट डोर टू डोर

pushpendra shekhawat Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned