किसी को गाड़ी दे तो रहे सावधान, चालक ने नियम तोड़ा तो वाहन मालिक पर भी होगा जुर्माना

ट्रैफिक पुलिस की पहल : शराब पीकर वाहन चलाने वाले कोर्ट में झूठा शपथ पत्र देकर छूट जाते हैं चालक, प्रारम्भिक जांच में 13 झूठे शपथ पत्र मिले, चालकों के खिलाफ दर्ज होगा मुकदमा

अविनाश बाकोलिया / जयपुर। यदि आप बिना सोचे समझे किसी को भी अपनी गाड़ी चलाने के लिए दे रहे हो तो सावधान हो जाएं। कहीं ऐसा न हो कि गाड़ी चलाने वाले के साथ-साथ आपका भी चालान हो जाए। यातायात पुलिस ( Traffic Police ) की ओर से शराब पीकर वाहन चलाने वालों के खिलाफ कार्रवाई के दौरान ऐसे मामले सामने आए हैं। पता चलता है चालक किसी ओर से गाड़ी मांगकर लाया है।

वाहन चालकों का लाइसेंस ( Driving Licence ) सस्पैंड नहीं हो इसलिए चालक वाहन जब्त होने पर कोर्ट में झूठा शपथ पत्र दे देते हैं, जिसमें कहा जाता है कि उनके पास ड्राइविंग लाइसेंस ही नहीं है। अब पुलिस तभी जब्त वाहन छोड़ेगी जब चालक लाइसेंस बनवाकर लाएगा। साथ ही कोर्ट में जुर्माने की राशि भी जमा करवानी होगी। पुलिस वाहन मालिक से भी एक हजार रुपए का जुर्माना लेगी। यातायात पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार कुछ वाहन चालकों के शपथ पत्र की जांच की तो सामने आया कि उन्होंने झूठा शपथ पत्र दिया है। अब यदि किसी वाहन चालक ने झूठा शपथ पत्र दिया है, तो उसके खिलाफ धोखाधड़ी का केस दर्ज होगा।

13 ने दिए झूठे शपथ पत्र
यातायात पुलिस ने बताया कि पिछले दिनों शराब पीकर वाहन चलाने वालों पर कार्रवाई कर गाड़ी जब्त की गई, तो चालकों ने झूठे शपथ पत्र सौंपकर वाहन छुड़वा लिए। शपथ पत्रों की जांच में फर्जी पाए गए। कई वाहन चालकों ने अब नया ही रास्ता निकाल लिया है। गाड़ी जब्त होने पर चालक वाहन को छोड़कर ही चला जाता है।


इनका कहना है

प्रारंभिक जांच में 13 शपथ पत्र झूठे होने की बात सामने आए हैं। फर्जी पाए जाने पर चालक के खिलाफ मुकदमा दर्ज करेंगे। शपथ पत्र में चालक बताते हैं कि लाइसेंस बनवाने पर प्रस्तुत कर दिया जाएगा। हालांकि तब भी पुलिस उस लाइसेंस को निरस्त करवाने के लिए भेजेगी।

- राहुल प्रकाश, डीसीपी ट्रैफिक

Show More
pushpendra shekhawat
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned