scriptDung will go to Kuwait for the first time from the country | देश से पहली बार कुवैत जाएगा 192 मीट्रिक टन गाय का गोबर | Patrika News

देश से पहली बार कुवैत जाएगा 192 मीट्रिक टन गाय का गोबर

जैविक खेती मिशन की पहल: कुवैत में खेती के आएगा काम, सांगानेर स्थित पिंजरापोल गोशाला में तैयारियां हुई शुरू

जयपुर

Published: June 12, 2022 11:09:33 am

जयपुर. देशभर में गौ संरक्षण को लेकर पहल की जा रही है। खास बात ये है कि अब सात समंदर पार भी देशी गाय के गोबर को तवज्जो मिलेगी। पहली बार देश से कुवैत में 192 मीट्रिक टन गाय का गोबर भेजा जाएगा। गोबर को पैक कर कंटेनर के जरिए 15 जून से भेजा जाएगा। सांगानेर स्थित पिंजरापोल गोशाला के सनराज इज आर्गेनिक पार्क में इसकी तैयारियां शुरू हो चुकी हैं। भारतीय जैविक किसान उत्पादक संघ के देश में चलाए जा रहे जैविक खेती मिशन की पहल पर कुवैत में खेती के लिए गोबर भिजवाया जाएगा।
देश से पहली बार कुवैत जाएगा 192 मीट्रिक टन गाय का गोबर
देश से पहली बार कुवैत जाएगा 192 मीट्रिक टन गाय का गोबर
संघ के राष्ट्रीय अध्यक्ष डॉ. अतुल गुप्ता ने बताया कि यह गौ संरक्षण अभियान का ही नतीजा है। पहली खेप में 15 जून को कनकपुरा रेलवे स्टेशन से कंटेनर रवाना होंगे। गुप्ता ने कहा कि कुवैत के कृषि वैज्ञानिकों के अध्ययन के बाद फसलों के लिए गोबर बेहद उपयोगी माना गया। इससे न केवल फसल उत्पादन में बढ़ोतरी हुई, बल्कि जैविक उत्पादों के उपयोग से स्वास्थ्य पर भी प्रतिकूल असर देखने को मिला। गोबर का पाउडर के रूप में खजूर की फसल में इस्तेमाल करने से फल के आकार में वृद्धि के साथ-साथ उत्पादन में भी आशानुरूप बढ़ोतरी देखी गई। सनराइज एग्रीलैंड डवलपमेंट को यह जिम्मेदारी मिलना देश के लिए बड़े गर्व की बात है। राज्य सरकारें भी इस ओर ध्यान दें।
खास बात
—देश में मवेशियों की संख्या तीस करोड़ से अधिक।
—रोजाना 30 लाख टन गोबर का आगमन होता है।
—गोबर का सही इस्तेमाल होने पर सालाना छह करोड़ टन लकड़ी व साढ़े तीन करोड़ टन कोयला की बचत होगी।
इसलिए खास है गोबर
कृषि एक्सपर्ट संगीता गौड़ ने बताया कि प्राचीन युग से ही खाद का पौधों, फसल उत्पादन में महत्वपूर्ण है। गोबर में एन्टिडियोएक्टिव एवं एन्टिथर्मल गुण होने के साथ ही 16 प्रकार के उपयोगी खनिज तत्व पाए जाते हैं। खाद में 50% नाइट्रोजन, 20% फास्फोरस व पोटेशियम पौधों को शीघ्र मिलता है। प्रशांत चतुर्वेदी ने कहा कि गोबर मानव जीवन के लिए अत्यंत उपयोगी है। यह मल नहीं, मलशोधक है। विदेशियों ने इसकी प्रमाणिकता सिद्ध की है। गोशाला के महामंत्री शिवरतन चितलांगिया ने बताया कि देश में तीस फीसदी गोबर को उपला बनाकर जला दिया जाता है। जबकि ब्रिटेन में गोबर गैस से हर साल सोलह लाख यूनिट बिजली का उत्पादन होता है, तो चीन में डेढ़ करोड़ परिवारों को घरेलू ऊर्जा के लिए गोबर गैस की आपूर्ति की जाती है। अमेरिका, नेपाल, फिलिपिंस, दक्षिणी कोरिया ने भारत जैविक खाद मंगवाना शुरू किया।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

Monsoon Alert : राजस्थान के आधे जिलों में कमजोर पड़ेगा मानसून, दो संभागों में ही भारी बारिश का अलर्टमुस्कुराए बांध: प्रदेश के बांधों में पानी की आवक जारी, बीसलपुर बांध के जलस्तर में छह सेंटीमीटर की हुई बढ़ोतरीराजस्थान में राशन की दुकानों पर अब गार्ड सिस्टम, मिलेगी ये सुविधाधन दायक मानी जाती हैं ये 5 अंगूठियां, लेकिन इस तरह से पहनने पर हो सकता है नुकसानस्वप्न शास्त्र: सपने में खुद को बार-बार ऊंचाई से गिरते देखना नहीं है बेवजह, जानें क्या है इसका मतलबराखी पर बेटियों को तोहफे में देना चाहता था भाई, बेटे की लालसा में दूसरे का बच्चा चुरा एक पिता बना किडनैपरबंटी-बबली ने मकान मालिक को लगाई 8 लाख रुपए की चपत, बलात्कार के केस में फंसाने की दी थी धमकीराजस्थान में ईडी की एन्ट्री, शेयर ब्रोकर को किया गिरफ्तार, पैसे लगाए बिना करोड़ों की दौलत

बड़ी खबरें

Train Accident: महाराष्ट्र के गोंदिया में रेल हादसा, पैसेंजर ट्रेन ने मालगाड़ी को मारी टक्कर; 50 से अधिक यात्री घायलJammu Kashmir News: जम्मू के सिधरा में एक ही परिवार के छह लोग की संदिग्ध स्थिति में मौत, पुलिस कर रही छानबीनदिल्ली में आज पीएम मोदी की अध्यक्षता में केंद्रीय कैबिनेट की बैठक, मंत्रिमंडल विस्तार की अटकलें तेजगुलाम नबी ने कांग्रेस को दिया झटका, ठुकराया JK कैंपेन कमेटी का पद, बताया ये कारणदिल्ली में फिर डरा रहा कोरोना, बीते 7 महीने में सबसे ज्यादा पॉजिटिविटी रेट, अलर्ट मोड पर अस्पतालMartyrdom: शेखावाटी का फिर एक लाल देश के नाम कुर्बान, आठ महीने की गर्भवती है पत्नीAlwar Mob Lynching: चिंरजीलाल को भीड़ ने चोर समझकर डाला था, 7 आरोपी गिरफ्तारबिलासपुर से जोधपुर आ रही ट्रेन मालगाड़ी से टकराई, जानें कितने हुए घायल
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.