मोबाइल से फोटो लेती रही महिला और चाबी बनाने वाला उसकी आंखों के सामने ले उड़ा लाखों का माल

मोबाइल से फोटो लेती रही महिला और चाबी बनाने वाला उसकी आंखों के सामने ले उड़ा लाखों का माल

Mridula Sharma | Publish: Oct, 13 2018 02:29:46 PM (IST) | Updated: Oct, 13 2018 02:29:47 PM (IST) Jaipur, Rajasthan, India

फेरी वाले से अलमारी की चाबी बनवाना पड़ा महंगा, शहर में चोरी की पांचवी वारदात

अविनाश बाकोलिया/जयपुर. राजधानी में इन दिनों चाबी बनाने वाला गिरोह सक्रिय है जो अलमारी की डुप्लीकेट चाबी बनाने का झांसा देकर चोरी की वारदात को अंजाम दे रहा है। अब तक शहर में श्याम नगर, महेश नगर, वैशाली नगर और झोटवाड़ा क्षेत्र में ऐसी वारदात हो चुकी हैं। आए दिन यह गिरोह कहीं न कहीं वारदात को अंजाम दे रहे हैं, लेकिन अभी भी पुलिस की पकड़ से दूर है। ताजा मामला चित्रकूट में हुआ है, जहां वारदात ई-10/94 चित्रकूट निवासी राजबाला के घर हुई। इस संबंध में पीडि़ता ने थाने में रिपोर्ट दर्ज करवाई है।

रोचक तो यह है कि अलमारी की चाबी बनवाते समय पीडि़ता राजबाला चाबी बनाने वाले लड़के की अपने मोबाइल में फोटो क्लिक करती रही और वह उसकी आंखों के सामने लाखों का माल पार कर ले गया। पीडि़ता के घर गत 5 अक्टूबर को वारदात हुई थी, लेकिन उसे इसका पता 11 अक्टूबर को चला जब गांव जाने से पहले उसने अपनी अलमारी को टटोला।

 

अलमारी खोल करने लगा चाबी बनाने की एक्टिंग
पुलिस ने बताया कि 5 अक्टूबर को दोपहर को घर के बाहर चाबी बनवा लो की आवाज लगाता हुआ एक लड़का घूम रहा था। पति अजय मिश्रा एलआईसी का काम करते हैं। वह अपने ऑफिस में थे, तो पीडि़ता ने पति से चाबी बनवाने के लिए पूछा तो उन्होंने हां कह दी। इस पर वह चाबी बनाने वाले को घर पर ले आई। चाबी बनाने वाले ने कहा कि कोई दूसरी अलमारी की चाबी लाओ उसे देखकर चाबी बना दूंगा। राजबाला दूसरी अलमारी की चाबी उसे दे दी। बदमाश ने डुप्लीकेट चाबी बना और अलमारी खोल दी, लेकिन ओरिजनल चाबी को मोड़ दिया। जब पीडि़ता ने उससे शिकायत की तो बदमाश ने बोला आप मुझे आलमारी दिखाओ मैं नई चाबी बना दूंगा। पीडि़ता द्वितीय तल पर ले गई और उसे अलमारी दिखा दी। बदमाश ने अलमारी को खोलकर चाबी का नाप लेने की एक्टिंग करने लगा। थोड़ी देर बाद में बदमाश ने चाबी बना दी और चला गया।

 

6 दिन बाद चला चोरी का पता
गांव जाना था तब वारदात का पता चला-पुलिस ने बताया कि पीडि़ता को 11 अक्टूबर को गांव जाना था। उसने सोचा अलमारी को ठीक कर देती हूं। जब उसने सामान चैक किया तब चोरी का पता चला। चोर सोने की चार चूड़ी, मंगलसूत्र, दो सोने की अंगूठी, एक पायजेब सहित चार लाख का सामान ले गया। इसके बाद पीडि़ता ने 12 अक्टूबर को थाने में रिपोर्ट दर्ज करवाई।

 

किराएदार नहीं आई झांसे में
पुलिस ने बताया कि बदमाश ने भूतल पर रहने वाली किराएदार रचि तिवाड़ी को भी झांसे में लेने की कोशिश की थी। बदमाश ने उससे भी अलमारी दिखाने को कहा, लेकिन उसने साफ मना कर दिया।

 

नहीं ले रहे सबक
आए दिन चाबी बनाने वाले घरों में चोरी की वारदात कर रहे हैं। श्याम नगर, महेश नगर, वैशाली नगर, झोटवाड़ा में इस तरह की वारदात हो चुकी है। इसके बाद भी लोग सबक नहीं ले रहे हैं। किसी भी अनजान को घर में घुसाने से पहले उसका आईडी कार्ड, उसका पता, मोबाइल नंबर पूछना चाहिए। साथ ही जब भी आप अकेले हो तो ऐसे लोगों को घर में न बुलाएं।

 

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

Ad Block is Banned