बैम्बू और चारकोल से बने सेनेट्री पैड हैं इको फ्रेंडली

eco friendly sanitary napkins-जयपुर। प्रवीणलता संस्थान के प्लास्टिक फ़्री पीरियडस अभियान के तहत जयपुर ग्रामीण आमेर ब्लॉक के गाँव लक्ष्मीनारायणपूरा मे करीब 450 ग्रामीण तबके की किशोरी बालिकाओं और महिलाओं को 5 साल तक चलने वाले पर्यावरण अनुकूल बेम्बू चारकॉल से बने सेनेटरी पैड्स निःशुल्क वितरित किए गए।

जयपुर। प्रवीणलता संस्थान के प्लास्टिक फ़्री पीरियडस अभियान के तहत जयपुर ग्रामीण आमेर ब्लॉक के गाँव लक्ष्मीनारायणपूरा मे करीब 450 ग्रामीण तबके की किशोरी बालिकाओं और महिलाओं को 5 साल तक चलने वाले पर्यावरण अनुकूल बेम्बू चारकॉल से बने सेनेटरी पैड्स निःशुल्क वितरित किए गए। कार्यशाला के माध्य्यम से कन्वीनर शोभा सोनी ने ड़िस्पोजल पैड्स से होने वाली हानि के बारे मे बताया साथ ही 'मेरा पैड' की विशेष खूबियों के बारे मे जानकारी दी। कार्यशाला मे शहर के 12वीं कक्षा के युवा वेदांत अग्रवाल ने सही माहवारी प्रबन्धन के बारे मे जानकारी दी और लोगों से अपने प्लानेट और पर्यावरण को साफ रखने और सेनेटरी प्लास्टिक वेस्ट से मुक्त रखने की अपील की। इस कार्यशाला के माध्य्यम से गांव में आने वाले 5 सालों में 6750 किलोग्राम सेनेटरी प्लास्टिक कचरा बनने से बचाया जा सकता है। संस्थान संस्थापिका भारती सिंह चौहान ने बताया कि स्वस्थ जीवन जीने के लिए सुरक्षित और स्वास्थ्यवर्धक तरीकों को अपनाने का अभ्यास किया जाना चाहिए। उन्होने बताया इस मुहिम से महिलाओं को आर्थिक रूप से स्वतंत्र बनाने के लिए रोजगार सृजन के अवसर भी प्रवीणलता संस्थान प्रदान कर रहा है।कार्यशाला के सफल आयोजन मे सरपंच बनबिहारी मीणा, पीसीसी सचिव जिला परिषद मोहन डागर, वार्ड पंच मोहन सैनी और आंगनवाडी कार्यकर्ता इन्द्रा शर्मा का विशेष योगदान रहा।

Tasneem Khan
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned