scriptEdible oil is cheap, prices are decreasing for three months | cooking oil: खाने का तेल होने लगा सस्ता, तीन महीनों से घट रहे है दाम | Patrika News

cooking oil: खाने का तेल होने लगा सस्ता, तीन महीनों से घट रहे है दाम

खाद्य तेलों ( cooking oil price ) की खुदरा कीमतों ( Retail prices ) में अक्टूबर के बाद से गिरावट का रुझान है। प्रमुख बाजारों में खाद्य तेलों की खुदरा कीमतों में 5 से 20 रुपए प्रति किलोग्राम की भारी गिरावट आई है।

जयपुर

Published: January 12, 2022 10:35:36 am

खाद्य तेलों की खुदरा कीमतों में अक्टूबर के बाद से गिरावट का रुझान है। प्रमुख बाजारों में खाद्य तेलों की खुदरा कीमतों में 5 से 20 रुपए प्रति किलोग्राम की भारी गिरावट आई है। मूंगफली तेल का औसत खुदरा मूल्य 180 रुपए प्रति किलो, सरसों तेल का 185 रुपए प्रति किलो, सोया तेल का 149 रुपए प्रति किलो, सूरजमुखी तेल का 162 रुपए प्रति किलो और पाम तेल का 128 रुपए प्रति किलो है। अक्टूबर 2021 की कीमतों की तुलना में मूंगफली और सरसों के तेल की खुदरा कीमतों में 1.50 से & रुपए प्रति किलोग्राम की गिरावट आई है, जबकि सोया और सूरजमुखी के तेल की कीमतें अब 7 से 8 रुपए प्रति किलोग्राम नीचे आ चुकी हैं। प्रमुख खाद्य तेल कंपनियों ने कीमतों में 15-20 रुपए प्रति लीटर की कटौती की है।
cooking oil: खाने का तेल होने लगा सस्ता, तीन महीनों से घट रहे है दाम
cooking oil: खाने का तेल होने लगा सस्ता, तीन महीनों से घट रहे है दाम
अंतरराष्ट्रीय जिंस की कीमतें अधिक होने के बावजूद केंद्र सरकार द्वारा राÓय सरकारों की सक्रिय भागीदारी में साथ हस्तक्षेप से खाद्य तेलों की कीमतों में कमी आई है। खाद्य तेल की कीमतें एक साल पहले की अवधि की तुलना में अधिक हैं लेकिन अक्टूबर से ये नीचे आ रही हैं।
इसमें कहा गया है कि आयात शुल्क में कमी और जमाखोरी पर अंकुश को स्टॉक की सीमा लगाने जैसे अन्य कदमों से सभी खाद्य तेलों की घरेलू कीमतों को कम करने में मदद मिली है और उपभोक्ताओं को राहत मिली है। खाद्य तेलों के आयात पर भारी निर्भरता के कारण घरेलू उत्पादन को बढ़ाने के लिए प्रयास करना महत्वपूर्ण है।
खाने के तेलों की कीमतों में नरमी आई है, लेकिन दाम अभी भी ज्यादा है। इसका सीधा असर मांग पर पड़ रहा है, पहले लोग एक साथ महीने भर का तेल ले जाते थे, वो अब किश्तों में लेकर काम चला रहे है, जिससे खाद्य तेल की खपत पर भी फर्क पड़ रहा है। दामों में भी पन्द्रह से तीस रुपए टीन की और गिरावट आनी चाहिए।
तेल व्यापारी, अनिल चतर

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

बड़ी खबरें

Corona Update in Delhi: दिल्ली में संक्रमण दर 30% के पार, बीते 24 घंटे में आए कोरोना के 24,383 नए मामलेSSB कैंप में दर्दनाक हादसा, 3 जवानों की करंट लगने से मौत, 8 अन्य झुलसे3 कारण आखिर क्यों साउथ अफ्रीका के खिलाफ 2-1 से सीरीज हारा भारतUttar Pradesh Assembly Election 2022 : स्वामी प्रसाद मौर्य समेत कई विधायक सपा में शामिल, अखिलेश बोले-बहुमत से बनाएंगे सरकारParliament Budget session: 31 जनवरी से होगा संसद के बजट सत्र का आगाज, दो चरणों में 8 अप्रैल तक चलेगाHowrah Superfast- हावड़ा सुपरफास्ट से यात्रा करने वाले यात्रियों को परिवर्तित मार्ग से करना पड़ेगा सफर, इन स्टेशनों पर नहीं जाएगी ट्रेनपूर्व केंद्रीय मंत्री की भाजपा में वापसी की चर्चाएं, सोशल मीडिया पर फोटो से गरमाई सियासतTrain Reservation- अब रेल यात्रियों के पांच वर्ष से छोटे बच्चों के लिए भी होगी सीट रिजर्व, जानने के लिए पढ़े पूरी खबर
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.