विद्यार्थियों की पढ़ाई के लिए शिक्षामंत्री ने प्रसार भारती से मांगा रोजाना 1 घंटे का स्लॉट

मंत्री डोटासरा ने कहा प्रदेश के अधिकांश विद्यार्थियों के पास नहीं है नेट की सुविधा, डोटासरा ने केन्द्रीय सूचना एवं प्रसारण मंत्री प्रकाश जावड़ेकर को लिखा पत्र, पत्रिका ने उठाया था मामला, 12 अप्रेल को ही बताया था लॉकडाउन में कैसे हो पढ़ाई, न नेट, न फोन

By: MOHIT SHARMA

Updated: 18 Apr 2020, 12:15 PM IST

जयपुर। कोरोना वायरस के संक्रमण को रोकने के लिए इन दिनों देशभर में लॉकडाउन है, ऐसे में विद्यार्थियों की पढ़ाई बाधित न हो, इसके लिए ऑनलाइन क्लासेस शुरू की गई हैं। ऑनलाइन क्लासेस में एक बड़ी परेशानी सामने आ रही है, ग्रामीण क्षेत्र में अधिकांश विद्यार्थियों और उनके अभिभावकों के पास इंटरनेट ही नहीं है। इस मामले को पत्रिका ने प्रमुखता से उठाया। पत्रिका ने 12 अप्रेल को लॉकडाउन में कैसे हो ऑनलाइन पढ़ाई, न नेट न फोन शीषर्क से समाचार प्रकाशित किया था। उसके बाद शिक्षा विभाग हरकत में आया। अब शिक्षा मंत्री गोविन्द सिंह डोटासरा ने जन हित में प्रसार भारती के आकाशवाणी और दूरदर्शन चैनल द्वारा शिक्षा विभाग को निःशुल्क प्रसारण का समय आवंटित करने का आग्रह किया है।

केन्द्रीय सूचना एवं प्रसारण मंत्री प्रकाश जावड़ेकर को पत्र लिखकर मंत्री डोटासरा ने कहा कि लाॅकडाउन में प्रदेश में शिक्षण संस्थान बंद हैं। विद्यार्थियों के पठन-पाठन को प्रभावी रूप में सुनिश्चित करने के लिए प्रसार भारती सार्वजनिक हित में शिक्षा विभाग को निःशुल्क 1 घंटे का स्लाॅट उपलब्ध कराए। राज्य सरकार प्रसार भारती के आकाशवाणी और दूरदर्शन चैनल के माध्यम से विद्यार्थियों तक अपने शिक्षकों व पाठ्यक्रम की पहुंच सुनिश्चित करना चाहती है, परन्तु प्रसार भारती विभाग को निःशुल्क स्लाॅट उपलब्ध नहीं करा रहा है।

डोटासरा ने अपने पत्र में कहा कि राज्य सरकार विभिन्न नवाचारों को अपनाते हुए विद्यार्थियों को घर बैठे ऑनलाइन लाइव सेशन, सोशल मीडिया के माध्यम से ई-कन्टेट प्रसारण आदि उपलब्ध करा रही है, लेकिन प्रदेश के दूर-दराज के गांवो में आर्थिक रूप से पिछड़े अभिभावकों के पास इन सुविधाओं का अभाव होने से बहुसंख्य विद्यार्थी ऑनलाइन पढ़ाई का लाभ नहीं ले पा रहे हैं। उन्होंने सूचना एवं प्रसारण मंत्री से इन परिस्थितियों में जन हित में दूरदर्शन और आकाशवाणी प्रसार माध्यमों में राज्य सरकार के शिक्षा विभाग को निःशुल्क समय आवंटित करने का आग्रह किया है।

MOHIT SHARMA Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned