21 अक्टूबर को प्रभावी प्रेरक कार्यक्रम का आयोजन . रामपाल जाट


2 अक्टूबर से होगी अभियान की शुरुआत
अब आंदोलन का कार्यक्षेत्र होगा गांव

By: Rakhi Hajela

Updated: 30 Sep 2020, 02:43 PM IST

न्यूनतम समर्थन मूल्य पर खरीद का कानून बनाने तथा केंद्र द्वारा लाए गए किसान विरोधी कानून को वापसी के लिए 21 अक्टूबर को दूदू में प्रभावी प्रेरक कार्यक्रम का आयोजन किया जाएगा। जिसमें न्यूनतम समर्थन मेरा वैधानिक अधिकार है, का सामूहिक उद्घोष होगा। किसान महापंचायत के राष्ट्रीय अध्यक्ष रामपाल जाट ने कहा कि 2 अक्टूबर को इस अभियान की शुरुआत की जाएगी। यह निर्णय महापंचायत की राजस्थान प्रदेश की कार्यकारिणी ने मीटिंग में लिया गया। बैठक में लिए गए निर्णय के मुताबिक अब आंदोलन का कार्यक्षेत्र गांवों को बनाया जाएगा। गांव आधारित इस आन्दोलन में तहसीलों में ज्ञापन,धरने, प्रदर्शन आयोजित किए जाएंगे। इसके अतिरिक्त ग्राम सत्र पर पटवारी हल्का के माध्यम से प्रधानमंत्री को ज्ञापन भेजे जाएंगे। इस जागरण आन्दोलन में पत्रक सहित अन्य साहित्य का वितरण भी महत्वपूर्ण रहेगा। इस बैठक में प्रदेश संयोजक सत्यनारायण सिंह, प्रदेश महामंत्री सुन्दरलाल भावारिया, प्रदेश मंत्री रतन खोखर, युवा किसान महापंचायत के प्रदेश अध्यक्ष रामेश्वर पिंटू, झुंझुनू से होशियार सिंह, जोधपुर संभाग के अध्यक्ष नाथूराम, जोधपुर से ही प्रेम मुंडेल, कोटपूतली से राजेश कसाना सहित कई प्रमुख कार्यकर्ताओं ने भाग लिया। इस आयोजन को देशव्यापी बनाने के लिए देश भर के किसान नेताओं को आमंत्रण भेज कर भागीदारी करने का आग्रह किया जाएगा।

....

Rakhi Hajela Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned