गांवों में फिर बजी चुनाव की रणभेरी

— 636 जिला परिषद और 4371 पंचायत समिति सदस्यों के लिए चुनाव की घोषणा, चार चरणों में होगा मतदान, दो करोड़ से अधिक मतदाता लेंगे हिस्सा

By: Pankaj Chaturvedi

Published: 25 Oct 2020, 05:38 PM IST

जयपुर. छह बड़े नगरीय निकाय चुनावों के बाद अब प्रदेश में जिला परिषद और पंचायत समिति सदस्यों के चुनाव की रणभेरी बज गई है। राज्य निर्वाचन आयोग ने शनिवार को 21 जिलों में
जिला परिषद के 636 और एवं पंचायत समिति के 4371 सदस्यों के आम चुनाव का कार्यक्रम घोषित कर दिया। पंच—सरपंच की तरह यह चुनाव में भी चार चरणों में होगा।
प्रथम चरण में 23 नवंबर, दूसरे में 27 नवंबर, तीसरे में 1 दिसंबर और चौथे चरण के लिए 5 दिसंबर को वोट डाले जाएंगे। मतदान के लिए 21 जिलों में 2 करोड़ से अधिक मतदाता पंजीकृत हैं। चुनाव की घोषणा के साथ ही संबंधित निर्वाचन क्षेत्रों में आदर्श आचरण संहिता लागू हो गई है। चुनाव वाले सभी जिलों में आवश्यक सेवाओं को छोड़ कर सभी विभागों में तबादलों पर प्रतिबंध रहेगा। पिछले चुनावों की तरह ये चुनाव भी आयोग और सरकार की ओर से जारी कोरोना प्रोटोकॉल के तहत होगा। आयोग ने हर बूथ पर मतदाताओं की संख्या 1100 से घटा कर 900 कर दी है, जबकि मतदान सुबह 7.30 से शाम 5 बजे तक होगा।

18 जिलों में अभी चुनाव टाला

चुनाव आयुक्त पीएस मेहरा ने बताया कि सरकार ने जून एवं अगस्त, 2020 में 18 नगरपालिकाओं का सृजन किया था। 48 ग्राम पंचायत पूर्ण अथवा आंशिक रूप से नगरपालिका में सम्मिलित हुई, जिसके कारण संबंधित जिला परिषद एवं पंचायत समिति निर्वाचन क्षेत्र में बदलाव के अलावा कुछ स्थानों पर आरक्षण में भी परिवर्तन संभावित है। नवगठित नगरपालिकाओं का मामला अदालत में विचाराधीन होने के कारण भी स्थिति स्पष्ट नहीं है। ऐसे में इन 18 नगरपालिकाओं से प्रभावित 12 जिलों में चुनाव संभव नहीं हैं।

इन जिलों में चुनाव

अजमेर, चूरू, नागौर, बांसवाडा, डूंगरपुर, पाली, बाड़मेर, हनुमानगढ़, प्रतापगढ़, भीलवाड़ा, जैसलमेर, राजसमंद, बीकानेर, जालौर, सीकर, बूंदी, झालावाड़, टोंक, चित्तौड़गढ़, झुंझुनूं और उदयपुर;

मतदाता

कुल मतदाता— 2,41,87,946
महिला— 1,16,90,724
पुरुष— 1,24,97,136

महत्वपूर्ण तारीखें (सभी चरणों के लिए)

4 नवंबर— चुनाव अधिसूचना जारी एवं नामांकन प्रक्रिया शुरु
9 नवंबर— नामांकन की अंतिम तिथि
10 नवंबर— नामांकन पत्रों की छंटनी
11 नवंबर— नाम वापसी एवं प्रत्याशियों की सूची का प्रकाशन
8 दिसंबर— मतगणना
10 दिसंबर— प्रधान या प्रमुख का चुनाव
11 दिसंबर— उप प्रधान या उप प्रमुख का चुनाव

डेढ़ लाख व 75 हजार की खर्च सीमा तय

आयोग ने जिला परिषद सदस्य के लिए डेढ़ लाख रुपए और पंचायत समिति सदस्य चुनाव के लिए 75 हजार रुपए की खर्च सीमा तय की है।

चुनाव नियंत्रण कक्ष स्थापित

चुनाव संबंधी सूचना और आमजन की शिकायत के लिए नियंत्रण कक्ष के नंबर 0141-2227786, 0141-2385067, 0141-2385059 पर कॉल किया जा सकता है।

Pankaj Chaturvedi
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned