कांग्रेस के फीडबैक में उठा बिजली बिल और तबादलों का मामला

कांग्रेस के प्रदेश प्रभारी अजय माकन के गुरूवार को जयपुर संभाग के फीडबैक में विधायकों और नेताओं ने बिजली बिलों में बढोत्तरी और तबादलों में छूट नहीं देने का मामला उठाया।

By: rahul

Published: 10 Sep 2020, 07:56 PM IST

जयपुर। कांग्रेस के प्रदेश प्रभारी अजय माकन के गुरूवार को जयपुर संभाग के फीडबैक में विधायकों और नेताओं ने बिजली बिलों में बढोत्तरी और तबादलों में छूट नहीं देने का मामला उठाया। नेताओं ने बिजली कंपनियों की मनमानी से किसानों और आम उपभोक्ता में भारी रोष है और इससे पार्टी को भारी नुकसान हो रहा है। साथ ही यह शिकायत भी कही कि अफसरशाही हावी है और उनकी सरकार में सुनवाई नहीं होती है। कुछ नेताओं ने कार्यकर्ताओं के काम नहीं होने और मंत्रियों के दरवाजे बंद होने की भी बात कही और यह भी कहा कि जिन कार्यकर्ताओं ने संघर्ष किया है उन्हें सत्ता में भागीदारी मिलनी चाहिए।

माकन ने सबसे पहले जयपुर शहर के विधायकों, विधानसभा प्रत्याशियों सहित अन्य नेताओं से फीडबैक लेना शुरु किया। बैठक में किशनपोल से विधायक अमीन कागजी ने नगर निगम की कार्यशैली पर सवाल उठाए और कहा कि नगर निगम का ढर्रा नहीं सुधरा तो निगम का चुनाव नहीं जीत पाएंगें। उन्होंने यह भी कहा कि स्मार्ट सिटी का सबसे ज्यादा उनके विधानसभा क्षेत्र में हो रहा है लेकिन उनसे नहीं पूछा जाता है। कागजी ने तो यह दावा भी कर दिया कि स्वायत्त शासन मंत्री शांति धारीवाल भी अधिकारियों के रवैये से परेशान है। माकन ने जयपुर शहर के बाद जयपुर देहात, अलवर, सीकर, झुंझुनूं और दौसा के विधायकों और अन्य नेताओं से भी फीडबैक लिया।

Congress
rahul Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned